Home » Education News » Allahabad University cancelled UP PG semester exams due to corona virus pandemic
 

कोरोना महामारी के चलते इन विश्वविद्यालयों ने रद्द की परीक्षाएं, इन कोर्स के स्टूडेंट्स को मिलेगी राहत

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2021, 22:58 IST
University Exams (Social Media)

कोरोना वायरस के चलते देशभर में बुनियादी सुविधाएं चरमरा गई हैं. स्वास्थ्य सुविधाओं का बुरा हाल हो गया है. इस दौरान युवा भी बहुत परेशान है. क्योंकि कोरोना के चलते उनकी पढ़ाई लिखाई चौपट हो गई है. कोरोना वायरस के चलते देश के ज्यादातर विश्वविद्यालयों ने या तो परीक्षाओं को रद्द कर दिया है या परीक्षाओं की तिथि को बढ़ा दिया है. हालांकि देश के कुछ राज्यों में विश्वविद्यालय, कॉलेज ऑनलाइन परीक्षाएं करवा रहे हैं तो कुछ ने ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षाओं को भी रद्द और स्थगित कर दिया है. अब बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू), इलाहाबाद यूनिवर्सिटी, कश्मीर विश्वविद्यालय और महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय, मोतिहारी विश्वविद्यालय बिहार ने भी परीक्षाएं रद्द कर दी हैं.

इलाहाबाद विश्वविद्यालय एवं उससे संबंध सभी महाविद्यालयों में विभिन्न स्नातक और स्नातकोत्तर कक्षाओं की परीक्षाओं को रद्द और स्थगित कर दिया गया है. इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने क्षेत्र में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों के मद्देनजर ये फैसला किया है. इसके साथ ही स्नातक तृतीय वर्ष के छात्रों की प्रोन्नति का फार्मूला तय कर दिया गया है. प्रमोट किए जाने वाले छात्र-छात्राओं को सात फीसदी अंक बढ़ाकर स्नातक अंतिम वर्ष की मार्कशीट जारी की जाएगी. इस बारे में इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से वेबसाइट पर अधिसूचना जारी कर दी गई है.


वहीं उत्तर प्रदेश के बड़े शहर और धार्मिक एवं शैक्षणिक नगरी वाराणसी में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों की संख्या को देखते हुए बीएचयू यानी बनारस हिंदू विश्वविद्यालय को 15 मई तक के लिए बंद कर दिया गया था. इस अवधि के दौरान ऑनलाइन कक्षाएं भी नहीं चलेंगी. साथ ही विश्वविद्यालय में 30 जून, 2021 के पहले किसी भी परीक्षा का आयोजन नहीं किया जाएगा. कुछ परीक्षाओं को टालने और कुछ को रद्द करने के संबंध में निर्णय विश्वविद्यालय प्रबंध मंडल एवं परीक्षा समिति की चार मई, 2021 को हुई बैठक में लिया जा चुका है.

यहां निकली विद्युत विभाग में बंपर वैकेंसी, दसवीं पास करें आवेदन

विश्वविद्यालय प्रशासन के निर्णय के मुताबिक, पीजी और प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों में प्रथम एवं अंतिम सेमेस्टर को छोड़कर बाकी सभी सेमेस्टरों और स्नातक द्वितीय वर्ष के छात्र-छात्राओं को बिना परीक्षा सीधे अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा. इसके साथ ही स्नातक तृतीय वर्ष के छात्र-छात्राओं को पिछली कक्षा में प्रदर्शन के आधार पर उत्तीर्ण घोषित करते हुए अंतिम वर्ष की मार्कशीट प्रदान की जाएगी. स्नातक तृतीय वर्ष के नियमित छात्र-छात्राओं को स्नातक प्रथम एवं द्वितीय वर्ष के औसत अंकों के साथ प्रत्येक पेपर में सात फीसदी अंक बढ़ाकर प्रमोट किया जाएगा.

पंजाब को-ऑपरेटिव बैंक में इन पदों पर निकली वैकेंसी, ये है शैक्षिक योग्यता और आवेदन का तरीका

First published: 9 May 2021, 22:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी