Home » Education News » HRD Ministry is set to grade states on quality of school education
 

स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए एचआरडी मिनिस्ट्री ने तैयार किये ये नए पैरामीटर

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2018, 15:54 IST

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने राज्यों द्वारा दी जाने वाली स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता का आकलन करने के लिए मापदंड तय किये है. एचआरडी ने 70-पॉइंट का ग्रेडिंग इंडेक्स पेश किया है. एक रिपोर्ट्स के मुताबिक, ग्रेडिंग पैरामीटर में स्कूल इंफ्रास्ट्रक्चर, शिक्षकों की संख्या और उनके रिक्त पद, शिक्षकों की भर्ती और पदोन्नति में पारदर्शिता सहित कई मापदंडों को शामिल किया गया है.

मंत्रालय ने एक सूत्र ने कहा,"इस आईडिया का उद्देश्य राज्यों को रैंक करना नहीं है बल्कि उनके प्रदर्शन को ग्रेड करना है. ग्रेडिंग सिस्टम स्कूल शिक्षा में संरचनात्मक सुधारों को अपनाने के लिए और राज्यों को प्रेरित करने में मदद करेगी.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय "सेंट्रल इंस्टिट्यूट ऑफ असेसमेंट" (CIA) स्थापित करने की भी योजना बना रहा है जो एजुकेशन सिस्टम में सुधार के लिए NCERT और राज्यों के साथ शैक्षणिक हस्तक्षेपों पर काम करेगा.

केंद्र सरकार देश की शिक्षा प्रणाली में निरंतर सुधार और समावेशी विकास के लिए ऐसी योजना के कार्यान्वन पर कार्य कर रही है. इस प्रणाली के लागू होने पर राज्य के स्कूल भी अन्य राज्यों / केंद्रीय विद्यालयों के समान अपने एजुकेशन सिस्टम की खामियों को दूर कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें-UPPSC: पेपर लीक मामले में बड़ी कार्रवाई, इन अधिकारियों पर गिरी आयोग की गाज

ग्रेडिंग सिस्टम लागु होने से अभिभावकों को भी पता चल सकेगा उनके बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए किस स्कूल को चुना जाए.

First published: 5 August 2018, 15:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी