Home » Education News » IITs IIMs reserved category 1233 students drop out college report
 

पिछले दो साल में 2500 से ज्यादा छात्रों ने छोड़ा IIT-IIM आरक्षित वर्ग के इतने छात्र भी शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 August 2019, 16:12 IST

हर छात्र का सपना होता है कि उसका एडमिशन IIT या IIM में हो जाए, जिससे उनका भविष्य बेहतर बन सके. लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले दो सालों में 2500 से ज्यादा छात्रों ने आईआईटी और आईआईएम छोड़ दिया. रिपोर्ट में बताया कि गया है कि 2461 छात्रों ने IIT और 99 छात्रों ने पिछले दो साल में आईआईटी डॉप कर दिया है. इनमें आईआईटी के 48 फीसदी छात्र आरक्षित वर्ग से आते हैं. साथ ही आईआईएम छोड़ने वाले 62.6 प्रतिशत छात्र आरक्षित वर्ग के है.

ये रिपोर्ट मानव संसाधन विकास मंत्रालय (HRD) ने जारी की है. मंत्रालय की इस रिपोर्ट में बताया गया है कि इन में सबसे अधिक 782 छात्र IIT दिल्ली से हैं. वहीं IIM में सबसे ज्यादा इंदौर के 17 छात्र शामिल है. बता दें कि आईआईटी दिल्ली छोडने वालों में 111 छात्र एससी, 84 एसटी और 161 ओबीसी के हैं. इसी तरह आईआईएम इंदौर छोड़ने वालों में 17 छात्रों में आरक्षित वर्ग के 9 छात्र शामिल हैं. वहीं, आईआईएम काशीपुर (उत्तराखंड) के 13 छात्रों ने कॉलेज छोड़ा. इसमें 11 ओबीसी और दो एसटी वर्ग के छात्र शामिल हैं.

रिपोर्ट में बताया गया है कि, संस्थान छोड़ने वाले एससी, एसटी और ओबीसी के छात्रों का प्रतिशत सामान्य वर्ग के छात्रों के या तो बराबर है या उनसे ज्यादा है. हालांकि, आरक्षित वर्ग के छात्रों का सामान्य वर्ग के छात्रों से एडमिशन लेने का प्रतिशत कम है. ऐसा माना जा रहा है कि छात्रों ने भेदभाव के चलते संस्थान को छोड़ा होगा. यही नहीं ये स्थिति जातिगत आरक्षण को लेकर भी सवाल खड़े करती है, क्योंकि उन्हें कम अंक मिलने के बाद भी संस्थानों में एडमिशन मिल जाता है.

आईआईएम इंदौर के निदेशक हिमांशु राय बताते हैं कि सामान्य वर्ग के छात्र भी कॉलेज छोड़ते हैं. ड्रॉपआउट के कई कारण हो सकते हैं. जो छात्र पहली बार अकेले रहने आते हैं, वे कोर्स और उच्च शैक्षणिक मानकों के चलते अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते. राय बताते है कि आईआईएम इंदौर ज्यादा छात्रों को दाखिला देता है, इसलिए यहां के सबसे ज्यादा छात्र कॉलेज छोड़ते हैं.

ITI, दसवीं और ग्रेजुएट्स पास के लिए यहां निकली बंपर वैकेंसी, जानिए पूरी डिटेल्स

First published: 13 August 2019, 16:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी