Home » Education News » JEE and NEET Exam will not conduct online, it will be offline computer based CBT test for medical and Engineering exam
 

JEE, NEET की परीक्षा अब ऑनलाइन नहीं होंगी: जावड़ेकर

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 July 2018, 9:12 IST

JEE और NEET एग्जाम अब ऑनलाइन आयोजित नहीं की जाएगी. केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने लोकसभा में बताया कि JEE और NEET की परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन माध्यम से नहीं किया जाएगा बल्कि कम्प्यूटर आधारित टेस्ट (CBT) के आधार पर होगा.

जावड़ेकर ने साफ तौर पर कहा कि प्रवेश परीक्षा ऑनलाइन नहीं होगा लेकिन कम्प्यूटर पर लिखित परीक्षा होगी. अब उम्मीदवारों को पहले से डाउनलोड हो चुका पेपर मिलेगा और सिर्फ माउस से क्लिक कर आंसर शीट में जवाब देने होंगे.

ये भी पढ़ें-आखिर पीएम मोदी इन गरीब बच्चों के इतने कायल क्यों हो गए ?

एचआरडी मिनिस्टर ने ये भी बताया कि विभाग पहले साल में छात्रों को पेपर आंसर शीट से परीक्षा देने पर भी विचार कर रही है. कम्प्यूटर बेस्ड टेस्ट के लिए छात्रों को ट्रेनिंग भी दी जाएगी. उन्होंने कहा कि JEE और NEET में प्रत्येक साल करीब 24 लाख स्टूडेंट्स हिस्सा लेते हैं. मेडिकल और इंजीनियरिंग में एडमिशन के लिए राज्य सरकार भी कई परीक्षाओं का आयोजन करती है जिसमें लगभग डेढ़ करोड़ स्टूडेंट्स ऐसी प्रवेश परीक्षाओं में शामिल होते है.

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने हाल ही में एलान किया था कि JEE और NEET की परीक्षा अब साल में दो बार आयोजित की जाएगी. अभी तक इन परीक्षाओं का आयोजन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) के द्वारा किया जाता रहा है लेकिन अब नई नोडल एजेंसी, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के माध्यम से इस परीक्षा का आयोजन किया जाएगा.

IIT, NIT और अन्य प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग संस्थानों में एडमिशन के लिए जॉइंट एंट्रेस एग्जामिनेशन (JEE) आयोजित की जाती है जबकि मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेस टेस्ट (NEET) का आयोजन किया जाता है. सरकार के नए फैसले के अनुसार NEET और JEE परीक्षा अब साल में दो बार होगी जिससे स्टूडेंट्स को एक साल में दो बार मौका मिलेगा.

First published: 31 July 2018, 9:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी