Home » Education News » Most girls in India aspire to become psychologists or journalists: Cambridge survey
 

भारत में ज्यादातर लड़कियां बनना चाहती हैं जर्नलिस्ट और साइक्लोजिस्ट : Cambridge सर्वे

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 November 2018, 11:04 IST

एक नवीनतम वैश्विक सर्वेक्षण में पाया गया है कि भारत में 77 प्रतिशत लड़कियां पत्रकार या लेखक बनने की इच्छा रखती हैं जबकि 91.2 प्रतिशत साइक्लोजिस्ट बनना चाहती हैं. इसकी तुलना में 83.4 प्रतिशत लड़के सॉफ्टवेयर डेवलपर्स होने की इच्छा रखते हैं जबकि 8.8 प्रतिशत मनोवैज्ञानिक बनना चाहते हैं और करीब 22 फीसदी पत्रकारिता लेना चाहते हैं.

कैम्ब्रिज आकलन अंतर्राष्ट्रीय शिक्षा द्वारा किए गए सर्वेक्षण के नतीजों के अनुसार, केवल 16.6 प्रतिशत भारतीय लड़कियों ने सॉफ्टवेयर डेवलपर्स बनने की इच्छा व्यक्त की है. 23 प्रतिशत उत्तरदाताओं में लड़कों और लड़कियों दोनों ने इंजीनियरों या डॉक्टर बनने की इच्छा जताई है.

 

भारत के अलावा सर्वेक्षण अमेरिका, चीन, पाकिस्तान, मलेशिया, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन, इंडोनेशिया और अर्जेंटीना में आयोजित किया गया था. उत्तरदाता 5-19 साल के आयु वर्ग के थे. दुनिया भर के लगभग 20,000 शिक्षक और छात्रों ने सर्वेक्षण में हिस्सा लिया.

सर्वेक्षण के अनुसार अन्य देशों के बच्चों की तुलना में, भारतीय छात्र सबसे अधिक पढ़ाई करते हैं और अधिकतर अतिरिक्त कक्षाएं लेते हैं. वे खेल (72 प्रतिशत) जैसे अतिरिक्त गतिविधियों में भी भाग लेते हैं. सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा गया है, "भारतीय छात्र कैम्ब्रिज इंटरनेशनल की वैश्विक शिक्षा जनगणना 2018 के सर्वेक्षण के 10 देशों में अपने साथियों के मुकाबले अपने कार्यक्रमों में अधिक गतिविधियों को क्रैक करते हैं."

ये भी पढ़ें : BSSC 2018: बिहार SSC ने किया एडमिट कार्ड जारी, जानें ये निर्देश अन्यथा परीक्षा से हो सकते हैं वंचित

First published: 24 November 2018, 11:02 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी