Home » Education News » student commits suicide due to fear of fail now she got 70 percent marks in cbse 10th result
 

फेल होने के डर से रिजल्ट से पहले लगा ली फांसी, जब रिजल्ट आया तो घर वालों के उड़ गए होश

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2019, 10:10 IST

परीक्षा में फेल होने का डर सबको होता है, चाहे किसी ने अच्छे से पेपर दिया हो या फिर नहीं, लेकिन फेल और पास का डर हर किसी को सताता है. ऐसे में बहुत से लोग परेशान हो जाते हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जो फेल होने के डर से गलत कदम उठा लेते हैं. ऐसा ही कुछ सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) की एक 10वीं की छात्रा ने किया.

शर्मिष्ठा नाम की छात्रा ने 10वीं में फेल होने के डर से सुसाइड कर लिया. अब रिजल्ट देखे गए, तो उसने 70 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं. जो काफी बेहतर अंक माने जाते हैं. इसके साथ ही सबसे चौंकाने वाली बात ये है कि शर्मिष्ठा को जिस इंग्लिश सब्जेक्ट में फेल होने का डर था, उसी सब्जेक्ट में उसके सबसे ज्यादा अंक आए हैं. अंग्रेजी में शर्मिष्ठा के 82 फीसदी अंक आए. 

 

शर्मिष्ठा का परिवार ओडिशा से आकर नोएडा में बसा है. शर्मिष्ठा के मौत के बाद उसके परिवार को इस बात का मलाला है कि वे अपनी बेटी के जहन से एग्जाम फोबिया का डर नहीं भगा सके. शर्मिष्ठा के पिता ने कहा, "मेरी बेटी बहुत अच्छी थी. हमेशा पढ़ाई में व्यस्त रहती थी. वह ज्यादा बाहर भी नहीं जाती थी, लेकिन हमने उसे पूरी आजादी दी हुई थी. जब वह अंग्रेजी का पेपर देकर आई थी, तभी से वह कह रही थी कि परीक्षा में प्रश्नों के उत्तर लंबे होने के कारण उसके कुछ प्रश्न छूट गए हैं, जिससे उसे डर है कि कहीं वह फेल ना हो जाए."

पंखे से लटक कर दी जान

शर्मिष्ठा काफी होनहार छात्रा थी. उसने फेल होने के डर से रिजल्ट आने के एक दिन पहले पंखे से लटककर अपनी जान दे दी. शर्मिष्ठा को पेंटिंग का काफी शौक है. उसने अपनी इस प्रतिभा से काफी अवॉर्ड भी जीते हैं. लेकिन वह अपने मन में बसे एग्जामिनेशन फोबिया से नहीं बच सकी.

सूखी देश की दूसरी सबसे बड़ी नदी, बूंद-बूंद पानी के लिए भटक रहे लोग, तड़प रहीं मछलियां

First published: 9 May 2019, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी