Home » Education News » Student of Kerala Filed petition against re-exam in cbse paper leak case
 

CBSE पेपर लीक: सुप्रीम कोर्ट पहुंचा छात्र, दोबारा परीक्षा कराने के खिलाफ दायर की याचिका

न्यूज एजेंसी | Updated on: 1 April 2018, 9:33 IST

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं के गणित विषय के प्रश्न-पत्र लीक होने पर बोर्ड द्वारा उसकी दोबारा परीक्षा कराने के फैसले को केरल के एक छात्र ने सर्वोच्च न्यायालय में चुनौती दी है.

छात्र ने प्रश्न-पत्र के मात्र दिल्ली में ही लीक होने की खबरों के बाद याचिका दायर की. कोच्चि में चॉइस स्कूल के छात्र रोहन मैथ्यू ने तर्क दिया है कि पुनर्परीक्षा का फैसला संविधान के अनुच्छेद 14 (कानूनी समानता), अनुच्छेद 21 (जीवन और आजादी का अधिकार) और अनुच्छेद 21ए (शिक्षा का अधिकार) का उल्लंघन कर मनमाने और अवैध तरीके से लिया गया है.

उन्होंने याचिका में CBSE को 28 मार्च को हुई 10वीं की गणित की परीक्षा का मूल्यांकन कर 10वीं का परिणाम घोषित करने का निर्देश देने का आग्रह किया है. मैथ्यू ने कहा है कि पुनर्परीक्षा के तथ्यों और परिस्थितियों की समीक्षा करने के लिए एक विशेष उच्चाधिकार समिति गठित की जानी चाहिए.

छात्र ने केरल उच्च न्यायालय में वकालत करने वाले अपने पिता के माध्यम से याचिका दायर करते हुए कहा है कि 16 लाख परीक्षार्थियों के भविष्य को खतरे में डालने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए.

ये भी पढ़े-CBSE पेपर लीक : विसलब्लोअर का दावा, पॉलिटिकल साइंस का पेपर भी हुआ था लीक

First published: 1 April 2018, 9:32 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी