Home » Education News » UGC has issued a warning to withdraw grants of DU colleges running without principals
 

UGC ने DU के कोलेजों को दी चेतावनी, पूर्णकालिक प्रिंसिपल नियुक्त नहीं किए तो रोक देंगे फंड

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 August 2018, 13:07 IST

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) के अंतर्गत आने वाले 21 कॉलेजों को चेतावनी जारी की है और कहा है कि यदि वे पूर्णकालिक प्रिंसिपल नियुक्त नहीं करते हैं तो उनके वित्तीय अनुदान को रोक दिया जाएगा.

दिल्ली यूनिवर्सिटी के 77 कॉलेजों में से 22 से अधिक संस्थान स्थायी प्रिंसिपल के बिना कार्य कर रहे हैं. DU के इस रवैये से विश्वविद्यालय का शिक्षक संगठन नाराज है और वह नियुक्ति प्रक्रिया को सुचारू बनाने की मांग कर रहे हैं.

UGC के सचिव रजनीश जैन ने कहा, ''ताजा प्राप्त जानकारी के अनुसार देखा गया है कि DU के कई कॉलेजों ने रेग्युलर प्रिंसिपल नियुक्त करने के संबंध में मानव संसाधन विकास मंत्रालय या यूजीसी के गाइड लाइन का पालन नहीं किया है. कॉलेजों से एकबार फिर अनुरोध किया जाता है कि वे नियमित प्राचार्य के चयन की प्रक्रिया तेज करें.''

ये भी पढ़ें-सुकमा में 19 साल की बेटी ने दी 'नक्सल और बारूद' को मात, NEET पास कर किया मिसाल कायम

साथ ही रजनीश जैन ने ये भी कहा कि वे 31 अगस्त तक प्राचार्य के पद के लिए इंटरव्यू की तारीख के बारे में यूजीसी को सूचित करें. अगर ऐसा नहीं किया जाता है तो वित्तीय अनुदान और लाभ रोक दिए जायेंगे.

First published: 28 August 2018, 13:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी