Home » Education News » UP Board Exam 2019: Uttar pradesh up board plans to check exam copies twice
 

UP Board Exam 2019: 10वीं, 12वीं परीक्षा के लिए बोर्ड ने किए बदलाव, छात्रों को होगा बड़ा फायदा

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2019, 12:14 IST

UP Board Exam 2019: उत्तर प्रदेश बोर्ड इस साल 10वीं और 12वीं की होने वाली बोर्ड परीक्षा के लिए कई तरह के बदलाव किये गए हैं. यूपी बोर्ड ने पहली बार हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा की कॉपियां दो बार जांचने का फैसला किया है. रिपोर्ट्स के अनुसार, बोर्ड ने मूल्यांकन की कमियां दूर करने के लिए सभी 100 प्रतिशत छात्रों की उत्तर पुस्तिका की दोबारा जांच का प्रस्ताव बनाया गया है जिससे सभी कॉपियों की ठीक तरह जाँच हो पाए और छात्रों को उनके लिखे अनुसार सही नंबर दिए जाएं.

10वीं-12वीं के छात्र-छात्राओं को मिले अंक जोड़ने में भी शिक्षकों से गलती हो रही है. कभी-कभी देखने में आ रहा है कि अंदर कॉपी पर नंबर दिया ही नहीं और बाहर केजिंग में मनमाना नंबर चढ़ा दिया जिसका नकरतम असर छात्रों के रिजल्ट पर पड़ता है.

छात्रों को होगा बड़ा फायदा

गौरतलब है कि पिछले साल तक सिर्फ 15 प्रतिशत कॉपियों की ही दुबारा जांच की जाती थी. इस प्रक्रिया के तहत कॉपियों के मूल्यांकन के बाद रैंडम (बिना क्रम के) तरीके से 15 प्रतिशत कॉपियों को दूसरे शिक्षक देखते थे कि सभी प्रश्न जांचे गए हैं, जबाब दिए गए सभी प्रश्नों के अंक चढ़ाए गए हैं, नंबर जोड़ने में कमी तो नहीं रह गई इत्यादि, लेकिन इस सिस्टम से भी कई छात्रों को शिकायत रह जाती थी कि हमने जितने सवालों के जबाब दिए उसके मुताबिक नंबर नहीं आए. कई बार ऐसा देखने को मिलता है कि शिक्षक ने कुछ प्रश्न जांचे ही नहीं, या कॉपी के अंदर कुछ नंबर दिया और बाहर केजिंग में कुछ और चढ़ा दिया गया जिसका सीधा असर छात्रों द्वारा प्राप्त अंकों पर पड़ता है.

अब बोर्ड द्वारा 100 प्रतिशत कॉपियां दुबारा दूसरे से जांचने के बाद गलती की गुंजाईश बहुत कम रहेगी. इससे छात्रों को फायदा मिलेगा, कई बार ऐसा देखा जाता है कि टीचर की गलती से कम नंबर चढ़ाए गए और मेधावी स्टूडेंट्स भी संबंधित विषय में फेल हो गए. लेकिन अब निश्चित तौर पर इसमें सुधर आएगा छात्रों को उनके लिखे अनुसार ही नंबर मिलेगा.

First published: 28 January 2019, 12:13 IST
 
अगली कहानी