Home » Education News » UP Board Exam: CM Yogi declared CCTV surveillance for Board exams to prevail cheating exams starts on 6 february
 

UP Board Exam: सीएम योगी ने लगाई नकल पर नकेल, 24 घंटे रहेगी CCTV की निगरानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 February 2018, 14:29 IST

यूपी बोर्ड कि परीक्षाएं आज से शुरू हो गयी हैं. शिक्षा विभाग से लेकर प्रशासनिक अधिकारी तक खास इंतजाम में लगे हुए हैं. इसके तहत जिला विद्यालय निरीक्षक ने कई परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण कर प्रश्न पत्रों व कमरों को सील भी किया. साथ ही हिदायत दी कि प्रश्न पत्रों के रखरखाव में किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

यूपी बोर्ड परीक्षाओं में इस बार कुल 106424 परीक्षार्थी शामिल होंगे. इनमें हाईस्कूल के 58019 व इंटरमीडिएट के 48405 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे. डीआईओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि कई स्कूलों का औचक निरीक्षण किया गया. स्कूल प्रबंधन को निर्देश दिए गए कि वह प्रश्न-पत्र व कापियों को एक कमरे में रखें. उस कमरे में सील लगा होना चाहिए. यदि ऐसा नहीं किया जाता तो केंद्र व्यवस्थापक से लेकर प्रबंधन तक कार्रवाई की जाएगी.

 

तीन सदस्यीय कमेटी करेगी निगरानी
बोर्ड परीक्षाओं की कापियों व प्रश्न पत्रों से किसी तरह की छेड़छाड़ व गड़बड़ियां न हो इसलिए डीआईओएस ने केंद्र व्यवस्थापक को तीन सदस्यीय कमेटी
गठन करने का आदेश दिया है. कमरा किस समय खुला, किसने और किस लिए खोला गया और कब बंद किया गया. यह सब एक रजिस्टर में दर्ज करना
होगा. इस पर इन तीनों सदस्यों के हस्ताक्षर होंगे.

24 घंटे गार्ड रहेंगे तैनात
डीआईओएस ने सभी परीक्षा केंद्र व्यवस्थापकों व स्कूल प्रबंधन को एक पत्र जारी कर विशेष निर्देश दिए गए हैं. इसमें कहा गया है कि जिस कमरे में कापी व प्रश्न पत्र रखे गए उनकी निगरानी के लिए गार्ड होना चाहिए.

ये भी पढ़ें. सरकारी नौकरी: हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग में नौकरी का मौका, जल्द करें आवेदन

 

सीसीटीवी कैमरे नहीं होंगे बंद
डीआईओएस ने आदेश दिया है कि कक्षाओं में लगे सीसीटीवी कैमरे छात्रों की तरफ होने चाहिए. साथ ही रिकॉर्डिंग में किसी तरह का कट नहीं होना चाहिए.
वहीं कैमरे किसी भी समय बंद नहीं किए जाएंगे. कभी भी किसी भी परीक्षा केंद्र की रिकॉर्डिंग सचल दस्ते व अन्य अधिकारी जांच कर सकते हैं.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने नकल पर लगाम कसने के दिए निर्देश

यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद के अपर सचिव शिवलाल कहा कहना है कि बोर्ड परीक्षा में पूरी तरह से पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए पहली बार सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में परीक्षा कराई जा रही है, इससे पहले कभी ऐसा नहीं हुआ है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि हर स्तर पर नकलविहीन व्यवस्था सुनिश्चित की जाए.

ये भी पढ़ें. AIIMS MBBS 2018: 5 फरवरी से करें रजिस्ट्रेशन, 26-27 मई को होगी परीक्षा

इसके हर संभव प्रयास किए जाएं, ताकि परीक्षाओं का रिजल्ट पारदर्शी ही आए. परीक्षाएं 7 से 10 और 2 से 5 की शिफ्ट में संप्पन होंगी.

First published: 6 February 2018, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी