Home » Education News » UP Board Result 2020: UP Board Result will not announce on 27 June says Deputy CM Dinesh Sharma
 

UP Board Result 2020: 27 जून को भी नहीं आएगा यूपी बोर्ड का रिजल्ट, उप-मुख्यमंत्री ने दी जानकारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 June 2020, 11:11 IST

UP Board Result 2020: उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UP Board) की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा (10th 12th Board Exam) के परिणाम (Result) की तिथि को लेकर अभी भी संशय जारी है. बताया जा रहा है कि अब 27 जून को भी बोर्ड दसवीं और बारहवीं का रिजल्ट घोषित नहीं करेगा. दरअसल, पहले ये खबर आई थी कि यूपी बोर्ड की हाई स्कूल (High School) और इंटरमीडिएट परीक्षा (Intermediate Exam) के परिणाम 27 जून (27th June) को जारी किए जाएंगे. रिजल्ट की 27 जून वाली तारीख को लेकर अब सूबे के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा (Deputy CM Dinesh Sharma) ने खंडन किया है.

उन्होंने कहा कि रिजल्ट जारी करने की तिथि की अभी कोई घोषणा नहीं की गई है. उन्होंने कहा कि परीक्षाओं के नतीजे 25 जून से 28 जून के बीच कभी भी घोषित किए जा सकते हैं और ये इस बात पर निर्भर करता है कि बोर्ड कितनी जल्दी रिजल्ट तैयार करता है. उप-मुख्यमंत्री की यह प्रतिक्रिया उन खबरों को लेकर आई है जिनमें यह कहा जा रहा था कि यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट 27 जून को घोषित करेगा. उप-मुख्यमंत्री ने मंगलवार को कहा था कि नतीजे जून के आखिर में जारी किए जाएंगे. बता दें कि यूपी बोर्ड की कॉपियों का मूल्यांकन मंगलवार को खत्म हो गया.


RPSC Recruitment 2020: यहां निकली फिजियोथेरेपिस्ट के पदों पर वैकेंसी, जल्द करें अप्लाई

दिनेश शर्मा ने कहा कि इस वर्ष परीक्षाएं रिकार्ड समय में हाईस्कूल की 12 दिन और इंटरमीडिएट की 15 दिनों में खत्म हो गई, लेकिन कोविड महामारी के कारण मूल्यांकन देर से शुरू हुआ. उन्होंने कहा कि विपरीत परिस्थितियों में भी कम समय में हमने मूल्यांकन खत्म कर दिया. बता दें कि इस बार यूपी बोर्ड की दसवीं और बारहवीं की परीक्षा में 56 लाख 11 हजार 72 विद्यार्थी शामिल हुए थे. उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने बताया कि 2020 की परीक्षाओं में निर्धारित 7784 परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण वेबकॉस्टिंग के माध्यम से किया गया. नकलविहीन परीक्षा और पारदर्शिता बरतने में सरकार सफल रही है.

DRDO में नौकरी करने का शानदार मौका, इन पदों के लिए निकली बंपर वैकेंसी

16 मार्च से मूल्यांकन शुरू हुआ लेकिन कोविड-19 महामारी संक्रमण के कारण मूल्यांकन को रोक दिया गया. लॉकडाउन खुलने पर ग्रीन जोन के 20 जिलों में 5 मई, ऑरेंज जोन में 12 मई और रेड जोन के 19 जिलों में 19 मई से मूल्यांकन दोबारा शुरु किया गया. उप-मुख्यमंत्री शर्मा के मुताबिक, 3,09,61,577 उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन किया गया. जिनके लिए राज्य में कुल 281 मूल्यांकन केन्द्र बनाए गए थे.

सेबी में नौकरी करने का शानदार मौका, इन पदों के लिए निकली वैकेंसी, जल्द करें अप्लाई

बता दें कि इसी बीच यूपी बोर्ड ने उन विद्यार्थियों के लिए भी राहत दी है. जिनका बारहवीं का प्रैक्टीकल किसी कारण के छूट गया था. यूपी बोर्ड उन्हें दोबारा से प्रायोगिक परीक्षा देने का अवसर प्रदान कर रहा है. जिन विद्यार्थियों ने प्रैक्टीकल नहीं दिया है वह 9 और 10 जून को प्रैक्टिकल दे सकते हैं. जिसके लिए वह अपने विद्यालय से संपर्क करें.

यूपी में 69,000 सहायक शिक्षक भर्ती पर हाईकोर्ट ने अगले आदेश तक लगाई रोक

First published: 4 June 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी