Home » Education News » UPSC Civil Service Result 2019: Bihar Students dominated UPSC exams a petrol pump worker son Pradeep Singh secured 26th rank
 

UPSC IAS Result 2019: पिता करते थे पेट्रोल पंप पर काम, बेटे ने यूपीएससी परीक्षा में पाई 26वीं रैंक

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2020, 9:28 IST
(Twitter/PradeepKumar)

UPSC Civil Service Result 2029: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) ने सिविल सर्विस परीक्षा-2019 (Civil Service Exam 2019) का रिजल्ट (Result) मंगलवार को जारी कर दिया. इस बार हरियाणा (Haryana) के प्रदीप सिंह (Pradeep Singh) ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2019 में टॉप किया है. वहीं दूसरे स्थान पर जतिन किशोर (Jatin Kishor) और तीसरे स्थान पर प्रतिभा वर्मा (Pratibha Verma) रहीं हैं. हर साल की तरह इस बार भी यूूपीएसपी सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Service Exam) में बिहार (Bihar) के कई होनहारों ने राज्य का नाम रोशन किया है.

अपनी सच्ची लगन और कड़ी मेहनत के दम पर बिहार के कई स्टूडेंट्स से यूपीएससी में अच्छी रैंक हासिल की है. बिहार में भागलपुर (Bhagalpur) के रहने वाले श्रेष्ठ अनुपम (Shreshtha Anupam) ने इस बार यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में ऑल इंडिया 19वां रैंक हासिल किया है. श्रेष्ठ अनुपम ने दिल्ली आईटाईटी (IIT Delhi) से कैमिकल इंजीनियर (Chemical Engineering) में पढ़ाई की है. उन्होंने दूसरे प्रयास में ही 19वीं रैंक हासिल कर ली. अनुपम बताते हैं कि जब उन्होंने पहली बार यूपीएससी की परीक्षा में बैठने का फैसला लिया तो बिना किसी तैयारी के ही एग्जाम दे आए और सफलता नहीं मिली. लेकिन दूसरे प्रयास के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की और देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा को पास कर लिया.


उन्होंने साल 2012 में दसवीं परीक्षा सेंट जोसेफ स्कूल (Sant Josheph School) से पास की. उस समय वे देश के सेकेंड टॉपर हुए थे. उनके पिता विनीत कुमार अमर एक बिजनेसमैन हैं. वहीं अनुपम की मां ने एमएससी किया है. अनुपम के एक मामा इनकम टैक्स कमिश्नर हैं जो पीरपैंती के रहने वाले हैं. अनुपम का घर भागलपुर शहर के खलीफाबाग चौक के पास है. अनुपम के अलावा बिहार के गोपालगंज (Gopalganj) के रहने वाले प्रदीप कुमार (Pradeep Kumar) ने भी यूपीएसपी परीक्षा (UPSC Exams) पास कर सूबे का नाम रोशन किया है. प्रदीप को संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा में 26वां स्थान प्राप्त हुआ है.

उत्तराखंड सरकार ने खोला नौकरियों का पिटारा, बेरोजगार युवा 'होप पोर्टल' पर कराएं रजिस्ट्रेशन

साल 2018 की परीक्षा में भी प्रदीप ने 93वां रैंक हासिल किया था. प्रदीप के पिता एक पेट्रोल पंप पर काम किया करते थे. उन्होंने बेटे की पढ़ाई के लिए अपना घर तक बेच दिया, लेकिन बेटे ने देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा पास कर पिता का कद गर्व से ऊंचा कर दिया.

नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में इन पदों पर निकली भर्ती, ये है शैक्षिक योग्यता और आवेदन का तरीका

श्रेष्ठ अनुपम और प्रदीप कुमार के बाद समस्तीपुर के रहने वाले सत्यम ने भी इस बार यूपीएससी की परीक्षा पास कर बिहार का नाम रोशन किया है. सत्यम को 169वीं स्थान हासिल हुआ है. सत्यम के पिता विजय चौधरी बीजेपी के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं. इसने अलावा इस बार बक्सर के अंशुमन राज ने भी यूपीएससी की परीक्षा पास की है. अंशुमन राज ने 107वां स्थान हासिल किया है. उन्होंने ने सफलता तीसरी बार में हासिल की है. उनके पिता मुखिया रह चुके हैं. अंशुमन राज ने नवोदय विद्यालय बक्सर से बारहवीं तक पढ़ाई की है.

UPSC Civil Services Exam 2019: सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह बने टॉपर

First published: 5 August 2020, 9:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी