Home » मनोरंजन » actress Deepika padukone chhapaak under fire on twitter for changing acid attacker name
 

'छपाक' को लेकर ट्विटर पर नया विवाद, एसिड हमलावर का नाम नदीम से बदलकर राजेश क्यों किया?

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 January 2020, 18:11 IST

JNU में छात्रों से मिलने के लिए दीपिका पादुकोण (Deepika padukone) का पहुंचना सोशल मीडिया पर उनके लिए एक विरोध और कंट्रोवर्सी की आंधी ले आया है.ट्विटर पर उनकी फिल्म छपाक अब कंट्रोवर्सी में आ गई है. #BoycottChhapaak ट्विटर पर टॉप ट्रेंड बना हुआ है. लेकिन इसी के साथ अब एक नया मामला सामने आया है. इसमें लोग दीपिका से सवाल कर रहे हैं कि उन्होंने एसिड फेंकने वाले का नाम फिल्म में नदीम से राजेश क्यों किया.

ट्विटर पर लोग पूछ रहे हैं कि जब लक्ष्मी अग्रवाल पर नदीम खान नाम के शख्स ने तेजाब फेंका था तो उनकी बायॉपिक छपाक में उस चरित्र का नाम क्यों बदला गया.सोशल मीडिया पर यूजर्स का दावा है कि फिल्म में नदीम किरदार का नाम राजेश है.इसे लेकर सोशल मीडिया पर तमाम पोस्ट सामने आ चुके हैं.



यूजर्स का कहना है कि जब फिल्म सच्ची घटना पर आधारित है तो इस फिल्म में लक्ष्मी अग्रवाल पर एसिड फेंकने वाले शख्स का नाम बदला तो ठीक है लेकिन हिंदू क्यों दिखाया गया है. हालांकि इस फिल्म में दीपिका के कैरेक्टर का नाम बी लक्ष्मी से बदलकर मालती कर दिया गया है.

दरअसल ये मामला तब शुरू हुआ जब दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हुए छात्रों पर हुए हमले के बाद छात्रों के प्रति एकजुटता दिखाने के लिए मंगलवार को JNUपहुंची. लेकिन वहां पहुंचने के बाद उन्होंने छात्रों को संबोधित नहीं किया.इस दौरान आजादी-आजादी और जय भीम के नारे भी गूंजे.

दीपिका पादुकोण मंगलवार को शाम करीब पौने आठ बजे जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय परिसर में पहुंची थी. इसके बाद से सोशल मीडिया पर दीपिका पादुकोण के JNUजाने को लेकर लोग बंटे हुए नजर आ रहे हैं.कुछ लोग दीपिका के सपोर्ट में उतरे हैं तो इसका विरोध जता रहे हैं.

JNU Attack : दीपिका पादुकोण के JNU पहुंचने पर बोले कन्हैया कुमार- अच्छा आई थीं क्या हम नहीं देख पाए

First published: 8 January 2020, 18:11 IST
 
अगली कहानी