Home » मनोरंजन » After Bajirao bhansali making a film on sahir
 

बाजीराव के बाद साहिर पर सिनेमा बनायेंगे भंसाली

आशीष पाण्डेय | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST

हिंदी सिनेमा को 'हम दिल दे चुके सनम, देवदास, ब्लैक और बाजीराव मस्तानी' जैसी सुपर हिट फिल्में दे चुके निर्देशक संजय लीला भंसाली ने अपनी अगली फिल्म कवि-गीतकार और शायर साहिर साहिर लुधियानवी पर बनाने की घोषणा की है.

फिल्म का नाम भी साहिर की लोकप्रिय रचना 'गुस्ताखियां' पर रखा गया है. भंसाली प्रोडक्शन खुद इस फिल्म का निर्माण करेगा. गुस्ताखियां' पर भंसाली का कहना है कि 'साहिर का गुरूर, उनकी नज्में और उनकी नजाकत ने न केवल मुझे बल्कि पूरे फिल्म सिनेमा उद्योग को गहरे तक प्रभावित किया है.

भंसाली ने कहा कि उनकी अधूरी प्रेमकहानी और वो दर्द जिसे साहिर ने जिया उसे पर्दे उतारना अपने आप में चैलेंजिंग और शानदार रहेगा. मैं साहिर के साथ अपना खास लगाव महसूस करता हूं.

एफटीआईआई से एडिटिंग कोर्स कर चुके भंसाली कभी विधू विनोद चोपड़ा के असिस्टेंट रहे हैं.

साल 2015 में आई भंसाली की फिल्म बाजीराव ने जबर्दस्त सफलता हासिल की थी.

साहिर लुधियानवी ने हिंदी सिनेमा को कई अमर गाने दिये. साहिर लुधियानवी जन्म 8 मार्च 1921 में लुधियाना में हुआ था. सन् 1939 में साहिर और अमृता गवर्नमेंट कालेज के स्टूडेंट थे. उस दौरान साहिर, अमृता प्रीतम से आकर्षित थे और साहिर उनके साथ शादी करना चाहते थे लेकिन अमृता के घर वालों के विरोध की वजह से ऐसा नहीं हुआ. 

मशहूर लेखिका अमृता प्रीतम ने अपनी आत्मकथा 'रसीदी टिकट' में इस बात का उल्लेख किया है कि वो साहिर के बहुत करीब रहीं और उनसे बहुत ज्यादा प्रभावित थीं.

साहिर ने फिल्म 'नया दौर', 'हम दोनों', 'गुमराह', 'चित्रलेखा', 'कभी कभी', 'प्यासा' और 'नया रास्ता' जैसी कई फिल्में में सुपर हिट गाने लिखे. साहिर की मृत्यु 25 अक्टूबर 1980 को मुंबई में हुई.

First published: 16 January 2016, 4:22 IST
 
आशीष पाण्डेय @catchhindi

संवाददाता, कैच हिंदी. बीएचयू से पॉलिटिकल साइंस(आनर्स). जामिया मिल्लिया इस्लामिया एमसीआरसी से मॉस कॉम. मल्टी-मीडिया जर्नलिस्ट के तौर पर डिजिटल, टेलीविज़न, डॉक्यूमेंट्री, रेडियो, सोशल मीडिया कैंपेनिंग, इलेक्शन कैंपेनिंग के लिए काम कर चुके हैं.

पिछली कहानी
अगली कहानी