Home » मनोरंजन » Anushka Sharma runs into trouble with the BMC after neighbour points out an illegal construction
 

अनुष्का शर्मा से परेशान पड़ोसियों ने बीएमसी से की शिकायत

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2017, 9:48 IST
Anushka

बॉलीवुड की बॉक्स ऑफिस क्वीन अनुष्का शर्मा के खिलाफ उनके पड़ोसियों आरोप लगाया है कि उन्होंने पैसेज के रास्ते में अवैध इलेक्ट्रिक जंक्शन बॉक्स लगवाया. बीएमसी को लिखी चिट्ठी में सुनील बत्रा नाम के शख्स का आरोप है कि न सिर्फ अवैध तरीके से इलेक्ट्रिक जंक्शन बॉक्स बॉलिवुड ऐक्ट्रेस ने लगवाया बल्कि उन्होंने बिल्डिंग के कई और नियमों को भी तोड़ा है.

इस संबंध में हाल ही में बीएमसी ने अनुष्का शर्मा को पत्र लिखा है. शिकायतकर्ता बत्रा बिल्डिंग में 16वें और 17वें फ्लोर के मालिक हैं. उनका कहना है, 'पहले उन्होंने इलेक्ट्रिक बॉक्स के बारे में फायर ब्रिगेड को सूचना दी. इसके बाद उन्होंने बीएमसी में इसकी शिकायत की. ' बत्रा का कहना है, 'बीएमसी अधिकारियों ने आकर इसकी जांच की है और इलेक्ट्रिक बॉक्स को आपत्तिजनक माना है.'

अपनी बात के समर्थन में शिकायतकर्ता बत्रा ने बीएमसी के बिल्डिंग ऐंड फैक्ट्री विभाग के के वॉर्ड के असिस्टेंट इंजिनियर द्वारा लिखे पत्र को भी दिखाया. पत्र के अनुसार, 'फ्लैट नंबर 2001 और 2002 के मालिक द्वारा कॉमन पैसेज में इलेक्ट्रिक बॉक्स लगवाना पूरी तरह से आपत्तिजनक है. फ्लैट मालिक को निर्देश दिया जाता है कि तत्काल वहां से इलेक्ट्रिक बॉक्स को हटवाएं. इलेक्ट्रिक बॉक्स नहीं हटाने पर एमएमसी नियमों के तहत जरूरी कार्रवाई की जाएगी.

शिकायतकर्ता बत्रा ने कई और आरोप भी अनुष्का शर्मा पर लगाए हैं. उनका कहना है कि बॉलिवुड अभिनेत्री के परिवार ने पैसेज के रास्ते में एक लकड़ी का कपबोर्ड भी लगवााया है. वहीं उनका एयर-कंडीशन भी बार की तरफ लगवाया गया है जिसकी वजह से दीवारों पर अभी से दरारें पड़ गई हैं. बाहरी हिस्से की दीवारें इतना भार सहन नहीं कर सकती हैं. बत्रा से जब पूछा गया कि उन्होंने इस मामले की शिकायत सोसाइटी की मैनेजिंग कमिटी से क्यों नहीं की तो उनका कहना है कि कमिटी पूरी तरह से अनुष्का शर्मा के पक्ष में है.

वहीं, इन सभी आरोपों पर अनुष्का शर्मा के प्रवक्ता का कहना है, 'आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद हैं. 20वें फ्लोर पर अनुष्का के 3 फ्लैट हैं. शर्मा परिवार की तरफ से कोई अवैध कंस्ट्रक्शन नहीं किया गया है और न ही किसी नियम को तोड़ा गया है. 2013 में ही फ्लैट से जुड़े सभी जरूरी अनुमति ले ली गई थी.

First published: 10 April 2017, 9:48 IST
 
अगली कहानी