Home » मनोरंजन » Gurinder Chadha hopes Indians love 'Partition: 1947'
 

'उम्मीद है कि भारतीयों को पसंद अएगी 'पार्टिशन 1947'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2017, 16:15 IST

फिल्मकार गुरिंदर चड्ढा का कहना है कि उन्होंने फिल्म 'पार्टिशन : 1947' बहुत प्यार से बनाई है और उन्हें उम्मीद है कि भारतीय दर्शक इसे पसंद करेंगे.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 'वायसराइज हाउस' के नाम से रिलीज हुई फिल्म भारत में शुक्रवार को 'पार्टिशन : 1947' नाम से रिलीज हुई. भारतीय मूल की सिख फिल्मकार ने अपनी जड़ों से जुड़ते हुए भारत के विभाजन को दर्शाया है.

फिल्म में विभाजन से लोगों को जिस त्रासदी और तकलीफ से गुजरना पड़ा, इसे दर्शाया गया है. चड्ढा ने यहां फिल्म की विशेष स्क्रीनिंग के दौरान कहा, "फिल्म बनाने के दौरान एक अच्छी फिल्म बनाने के लिए हम काफी सावधानी बरतते हैं, लेकिन फिल्म की रिलीज के समय सब कुछ भगवान के हाथ में होता है."

उन्होंने कहा, "हमने यह फिल्म बहुत प्यार और मेहनत से बनाई है, तो मैं उम्मीद करती हूं कि जैसे अन्य देशों ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया में इसे पसंद किया गया है, वैसे ही इसे यहां पसंद किया जाएगा."

फिल्म की कहानी 'द शैडो ऑफ द ग्रेट गेम : द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ द इंडियाज पार्टिशन' की कहानी से प्रेरित है. चड्ढा ने फिल्म में विभाजन में लॉर्ड माउंटबेटन की भूमिका को प्रमुखता से दिखाया है.

'पार्टिशन : 1947' में मनीष दयाल, हुमा कुरैशी और दिवंगत ओम पुरी ने काम किया है. तन्वीर गनी (जवाहरलाल नेहरू), डेंजिल स्मिथ (मुहम्मद अली जिन्ना) और नीरज काबी (महात्मा गांधी) की भूमिका में हैं.

फिल्म 'पार्टिशन : 1947' अभिनेत्री कृति सैनन की फिल्म 'बरेली की बर्फी' के साथ रिलीज हुई है, लेकिन चड्ढा दोनों फिल्मों में टकराव को लेकर चिंतित नहीं हैं. उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है कि दर्शकों के पास कई विकल्प हैं.

First published: 19 August 2017, 16:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी