Home » मनोरंजन » Hindu terrorists are real, Hindus are losing faith in 'satyameva jayate' says Kamal Haasan
 

हिंदू आतंकवाद सच्चाई, 'सत्यमेव जयते' से लोगों का विश्वास उठा

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 November 2017, 18:11 IST

तमिल फिल्मों के सुपरस्टार कमल हासन के एक बयान ने विवाद खड़ा कर दिया है. कमल हासन ने ये विवादित बयान हिंदू आतंकवाद को लेकर दिया. कमल हासन की राजनीति में आने की चर्चा पिछले कुछ वक्त से सुर्खियां बंटोर रही हैं. उनके इस बयान को भी इससे ही जोड़कर देखा जा रहा है.

कमल हासन का 7 नवंबर को जन्मदिन है और उम्मीद जताई जा रही है कि वो अपनी राजनीतिक पारी का इस दिन एलान कर सकते हैं. कमल हासन ने हाल ही में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और केरल के सीएम पिनराई विजयन से मुलाकात की थी.

कमल हासन ने एक तमिल पत्रिका में अपने साप्ताहिक लेख में 'हिंदू आतंकवाद' का मुद्दा उठाया है. हासन ने अपने लेख में लिखा, "आप ये नहीं कह सकते कि हिंदू आतंकवाद नहीं है. पहले हिंदू कट्टरपंथी बातचीत करते थे, अब वे हिंसा करते हैं. हिंदू आतंकवाद की बात कहने वाले लोगों को दक्षिणपंथी चैंलेज नहीं कर सकते हैं, क्योंकि आतंक हिंदू कैंप में भी पहुंच गया है."

अपने इस लेख में कमल हासन ने ये भी कहा है कि अब 'सत्यमेव जयते' से लोगों का विश्वास उठ गया है. उन्होंने लिखा, "सत्य की ही जीत होती थी, लेकिन अब ताक़त की ही जीत होती है ऐसा बन गया है. इससे लोग अमानवीय हो गए हैं."

गौरतलब है कि इस साल सितंबर में कमल हासन ने केरल के मुख्यमंत्री और सीनियर सीपीआई (एम) लीडर पिनराई विजयन से मुलाकात की थी. हासन ने कहा था, 'तमिलनाडु एक बार फिर सामाजिक न्याय का उदाहरण बनेगा, वर्तमान में केरल ने राह दिखाई है. बधाई.'

पिछली यूपीए सरकार के दौरान 'भगवा आतंकवाद' या 'हिंदू आतंकवाद' जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया था. गौरतलब है कि मनमोहन सरकार में  केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने सितंबर 2013 में संसद में 'हिंदू आतंकवाद' के मुद्दे पर खेद प्रकट किया था. कमल हासन से पहले फ़िल्म निर्देशक अनुराग कश्यप भी 'हिंदू आतंकवाद' का मुद्दा उठा चुके हैं. राजस्थान के जयपुर में 'पद्मावती' फिल्म के सेट पर हमले के बाद अनुराग कश्यप ने कहा था कि 'हिंदू आतंकवाद' अब मिथक नहीं रहा है.

First published: 2 November 2017, 18:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी