Home » मनोरंजन » IMD Forecasts Normal Monsoon This Year, 97 Percent of Average,which is normal for the season
 

मौसम विभाग ने दी खुशखबरीः इस साल अच्छी होगी बारिश, किसानों को होगा फायदा

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 April 2018, 20:20 IST

भारत के किसानों के लिए खुशखबरी है, देश में लगातार तीसरे साल मानसून सामान्य रहने का अनुमान है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि जून से सितंबर के बीच 97 फीसदी बारिश हो सकती है. सामान्य से ज्यादा बारिश होने की संभावना 20 फीसदी है. मौसम विभाग के रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस साल सूखा पड़ने की संभावना शून्य फीसदी है मतलब न के बराबर है.

मानसून के केरल पहुंचने का अनुमान 15 मई को मौसम विभाग जारी करेगी. इसके बाद दूसरे स्टेज के मानसून के पूर्वानुमान जून की शुरुआत आएंगे. मौसम विभाग ने लगातार तीसरे साल मानसून सामान्य रहने की उम्मीद जताई है. पिछले 5 सालों में 2015 में मानसून सबसे कमजोर रहा था तब 14 फीसदी कम बारिश हुई थी.

ये भी पढ़ें -बिन पानी केपटाउन बनने की राह पर है भारत की 'सिलिकॉन वैली' बेंगलुरु

इससे पहले निजी एजेंसी स्काईमेट भी सामान्य मानसून का पूर्वानुमान जारी कर चुकी है. स्काईमेट के मुताबिक जून से सितंबर के दौरान 100% बारिश होगी. स्काईमेट ने भी कहा था कि इस साल सूखा पड़ने की आशंका नहीं है. एजेंसी का कहना था कि इस साल जून-सितंबर के बीच 100 फीसदी मानसून का अनुमान है और सामान्य से ज्यादा बारिश की संभावना 20 फीसदी है. वहीं, इस साल सामान्य से कम बारिश की भी संभावना 20 फीसदी है.

भारत एक कृषि प्रधान देश है मॉनसून का सीधा असर देश की अर्थव्यवस्था पर पड़ता है. इससे पहले 2017 और 2016 में भी मॉनसून सामान्य रहा था, लेकिन 2014 और 2015 में मॉनसून कम होने की वजह से देश को सूखे की मार झेलनी पड़ी थी. सामान्य बारिश होने से अच्छी खेती होगी और अर्थव्यवस्था पर इसका सीधा और सकारात्मक असर होता है, और देश की जीडीपी में भी ग्रोथ देखने को मिलेगा.

First published: 16 April 2018, 20:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी