Home » मनोरंजन » Kangana raged on Mia Khalifa-Rehana, who spoke on farmers protest, says- drank Fevicol on Taliban?
 

किसान आंदोलन पर बोलने वालीं मिया खलीफा-रेहाना पर भड़कीं कंगना, कहा- तालिबान पर फेविकोल पी लिया?

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2021, 10:53 IST
kangana ranaut (catch news)

अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान के कब्जे के बाद दुनियाभर के लोग अपनी चिंता जता रहे हैं. भारत के भी मशहूर हस्तियों ने तालिबान के कब्जे पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. इस बीच बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भारत के किसान आंदोलन पर बोलने वालीं पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग, पॉप स्टार रिहाना और मिया खलीफा पर निशाना साधा है.

बॉलीवुड एक्ट्रेस ने कहा कि कहां गईं ग्रेटा, रिहाना और मिया खलीफा? जो तथाकथित हिंदुस्तानी किसानों और खालिस्तानियों की वकालत कर रही थीं. उन्होंने भड़कते हुए कहा कि अब जब तालिबान पर बोलने का समय आया तो क्या ये लोग फेवीकोल पीकर बैठी हैं? इससे पहले भारत के किसान आंदोलन को समर्थन देने के बाद भी कंगना ने इन तीनों को निशाने पर लिया था.

तब कंगना रनौत ने कहा था कि इन तीनों को भारत के आंतरिक मामलों में नहीं बोलना चाहिए. कंगना रनौत ने अफगानिस्तान मे तालिबान के कब्जे और शरिया कानून पर भी वार किया है. अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट में उन्होंने शरिया कानून को लेकर लिखा, "मुझे अफगानिस्तान से लोकतंत्र का सफाया करके शरिया लागू करने पर इंस्टाग्राम पर कोई नाराजगी नहीं दिख रही है."

कंगना ने लिखा, "बंगाल के कुछ हिस्सों में भी वास्तव में शरिया कानून का प्रयोग किया जा रहा है. अगर महिलाएं बुर्का नहीं पहनती हैं तो उन्हें शरिया कानून के तहत खुलेआम पीटा जाता है. इसके अलावा सार्वजनिक पथराव से लेकर खुली फांसी या सूली पर चढ़ाने की भी सजा हो सकती है. ये तानाशाह के मूड पर निर्भर है."

बता दें कि अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद स्थिति बदतर हो गई है. तालिबान के लड़ाके हाथों में बंदूक लिए यहां-वहां घूम रहे हैं और जो कोई भी उनका विरोध करता है उसे गोली मार देते हैं. तालिबान ने अफगानिस्तान में शरिया कानून चलाने की बात कही है. इसका मतलब यह है कि तालिबान से लोकतंत्र खत्म हो गया है.

UP चुनाव के लिए BSP का बड़ा ऐलान- अकेले लड़ेगी चुनाव, किसी से भी नहीं करेगी गठबंधन

पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सिंद्धू के सलाहकार ने कश्मीर को बताया अलग देश, भड़की BJP ने की कार्रवाई की मांग

 
First published: 19 August 2021, 10:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी