Home » मनोरंजन » Maharashtra Govt has no objection in sending him back to jail.
 

महाराष्ट्र सरकार को संजय दत्त को जेल भेजने से ऐतराज नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2017, 18:12 IST

बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ सकती हैं. म‍हाराष्ट्र सरकार ने बॉम्बे हाईकोर्ट से कहा कि अगर कोर्ट को लगता है कि संजय दत्त को पैरोल दिए जाने में नियमों की अवहेलना हुई है, वह संजय दत्त को वापस जेल भेज सकते हैं.

पिछले महीने बॉम्बे हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा था कि 57 साल के संजय दत्त को उनकी 5 साल की सजा पूरी करने के पहले क्यों रिहा कर दिया गया. बॉम्बे हाईकोर्ट के जज ने ऑथोरिटीज से सवाल किए थे कि उन्हें कैसे पता चला की संजय दत्त का जेल में बर्ताव अच्छा था.

उन्हें इस बात को चेक करने का समय कब मिला जबकि आधे टाइम तो वो पैरोल पर जेल से बाहर ही थे. संजय दत्त को उनकी सजा खत्म होने के 8 महीने पहले ही उनके अच्छे बर्ताव को देखते हुए रिहा कर दिया गया था.

पुणे के सोशल एक्टिविस्ट प्रदीप भालेकर ने संजय को 8 महीने पहले ही पुणे के येरवडा जेल से रिहा किए जाने के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में पिटीशन दाखिल की है. सजा के दौरान संजय को 120 दिन की पैरोल और 44 दिन की फर्लो भी मिली थी. इसके बावजूद उन्हें आठ महीने पहले रिहा कर दिया गया था.

गौरतलब है कि हथियार रखने के जुर्म में संजय दत्त को पांच साल की जेल की सजा सुनाई गई थी. ये हथियार 1993 के विस्फोटों में इस्तेमाल किए गए हथियारों के जखीरे का हिस्सा थे. इस मामले में मई, 2013 में संजय ने आत्मसमर्पण किया था.

First published: 27 July 2017, 18:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी