Home » मनोरंजन » manoj bajpai: censor board always biased
 

मनोज बाजपेयी: सेंसर बोर्ड करता है पक्षपात

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(गैंग्स ऑफ वासेपुर )

फिल्म अभिनेता मनोज बाजपेयी का मानना है कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) हमेशा से ही पक्षपात करता रहा है. मनोज बाजपेयी इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म ‘बुधिया सिंह- बॉर्न टू रन’ के प्रमोशन में लगे हुए हैं.

जब मनोज बाजपेयी से सेंसर बोर्ड की कार्यप्रणाली के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "सेंसर बोर्ड हमेशा से पक्षपात करता रहा है. इसमें कुछ भी नया नहीं है."

उन्होंने कहा, "जब से इसका गठन किया गया है, तब से ही सिनेमा के प्रति उसका रवैया पक्षपातपूर्ण रहा है. सेंसर बोर्ड और फिल्म निमार्ताओं के बीच लड़ाई तो चलती रहती है."

बाजपेयी ने कहा, "सेंसर बोर्ड को यह समझने की आवश्कता है कि उनका काम केवल फिल्मों को प्रमाणित करना है उन्हें सेंसर या प्रतिबंधित करना नहीं."

मनोज ने अपनी फिल्म के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्होंने इसकी पटकथा की वजह से फिल्म को साइन किया था.

‘बुधिया सिंह- बॉर्न टू रन’ 48 मैराथन पूरे करने वाले बुधिया सिंह की बॉयोपिक है. वायकॉम 18 मोशन पिक्चर्स और कोड रेड फिल्म प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित इस फिल्म में तिलोत्तमा शोम और मास्टर मयूर भी नजर आएंगे.

First published: 15 July 2016, 5:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी