Home » मनोरंजन » Movie review: Know what reviewers wrote with their ink, for PINK
 

मूवी रिव्यूः जानिए 'पिंक' के बारे में क्या लिखती है फिल्म समीक्षकों की 'इंक'

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 September 2016, 18:33 IST

इस फिल्मी फ्राइडे को अनिरुद्ध रॉय चौधरी द्वारा निर्देशित फिल्म 'पिंक' रिलीज हुई. फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाले किरदारों में बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन, तापसी पन्नू, कीर्ति कुल्हारी और आंद्रे तैरंग नजर आए हैं. 

इस फिल्म ने रिलीज के साथ ही समीक्षकों को की कलम को कम अंक देने से रोक दिया और ज्यादातर फिल्म समीक्षकों ने इसे बेहतर श्रेणी में रखा है. दिल्ली में रहने वाली तीन रूममेट्स की जिंदगी पर आधारित इस फिल्म में बिना किसी तामझाम के हकीकत से रूबरू कराया गया है.

कैच ने इस फिल्म के बारे में प्रमुख मीडिया के समीक्षकों द्वारा दिए गए अंकों और उनकी टिप्पणी इकट्ठी की और उससे आपको रूबरू कराते हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की मीना अइय्यर ने छोटे कपड़े पहनने वाली और लड़कों के साथ ड्रिंक करने वाली लड़कियों को लेकर समाज की सोच पर सवाल उठाने वाली इस फिल्म को 4.5 स्टार दिए हैं. उनका कहना है कि यह फिल्म ज्यादातर भारतीयों की मौजूदा सामंती संरचना पर करारा तमाचा है. 

इंडियन एक्सप्रेस की शुभ्रा गुप्ता ने फिल्म को 3.5 स्टार देते हुए लिखा है कि इस दमदार फिल्म में केवल वरिष्ठ वकील की भूमिका निभाने वाले अमिताभ बच्चन ही कमजोर कड़ी नजर आते हैं. 

बीबीसी के मयंक शेखर इस फिल्म की तुलना सनी देओल की मशहूर फिल्म दामिनी से करते हैं और कहते हैं कि फिल्म आपको यह सोचने पर मजबूर कर देती है कि ज्यादातर मर्दों की महिलाओं के बारे में क्या सोच होती है. उन्होंने फिल्म को 4 स्टार दिए हैं. 

प्रमुख फिल्म समीक्षक अजय ब्रह्मात्मज के मुताबिक इस फिल्म का सारा द्वंद एक 'न' पर है. फिल्म में अंत तक रहस्य बरकरार रखा गया है. उन्होंने फिल्म को 4 स्टार देते हुए लिखा है कि फिल्म के अंत में अमिताभ बच्चन की आवाज में प्रस्तुत 'पिंक' पोएम में फिल्म का सार और संवेदना है. इसे सुनकर ही सिनेमाघरों से बाहर निकलें. वो कविता है, "तू खुद की खोज में निकल, तू किस लिए हताश है. तू चल तेरे वजूद की, समय को भी तलाश है."

इंडिया टुडे के देवर्षि घोष ने लिखा है कि पिंक की पटकथा 2016 में अब तक आईं सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक है. जाहिर है फिल्म का मुद्दा बहुत सटीक है लेकिन अभी भी जरूरत है कि फिल्म में जिस किरदार को अमिताभ बच्चन ने निभाया है उसकी जगह एक महिला किरदार उभरकर सामने आता. देवर्षि ने फिल्म को 4 स्टार दिए हैं.

First published: 16 September 2016, 18:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी