Home » मनोरंजन » New social network 'Hello' launched by Orkut creator Büyükkökten to challenge Facebook
 

फेसबुक को टक्कर देने आया नया सोशल नेटवर्क 'हैलो'

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 9 August 2016, 13:03 IST

सोशल मीडिया के शुरुआती प्लेटफॉर्म यानी ऑरकुट को 2014 मे गूगल द्वारा बंद कर दिया गया. परिणामस्वरूप फेसबुक की प्रसिद्धि ने नए कीर्तिमान रच दिए. लेकिन अब फेसबुक को टक्कर देने के लिए ऑरकुट के निर्माता बायुक्कॉकटेन ने एक नए सोशल नेटवर्क 'हैलो' को लॉन्च किया है. 

'हैलो' केवल मोबाइल डिवाइसेज के लिए ही पेश किया गया है. एंड्रॉयड और आईओएस ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए उपलब्ध 'हैलो' ऐप फिलहाल अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील और आयरलैंड के यूजर्स ही इंस्टॉल कर सकते हैं. लेकिन इस माह अगले चरण में इसे जर्मनी, मैक्सिको और भारत में भी लॉन्च किया जाएगा.

स्मार्टफोन से शानदार तस्वीरें खींचने के 8 आसान तरीके

बायुक्कॉकटेन ने एक ब्लॉग में लिखा, "ऑरकुट की अगली पीढ़ी 'हैलो' है, और इसे प्यार के लिए बनाया गया है न कि 'लाइक्स' के लिए. 'हैलो' हम सभी को जोड़ेगा. सोचिए कि आप हर भाषा में 'हैलो' कह सकते हैं और लोग इसे समझते हैं."

उन्होंने आगे लिखा, "संभवता 'ओके' के बाद 'हैलो' सबसे ज्यादा बोले जाना वाला शब्द है. जब आप किसी के प्रति मित्रवत और अपनेपन का व्यवहार दिखाते हैं तो डर और घृणा  का कोई स्थान नहीं रहता. इसलिए आइए, मुझे ज्वाइन कीजिए और कुछ नए दोस्त बनाइए. हैलो बोलिए और अपनी दुनिया को प्यार कीजिए."

जल्द ही हिंदी, उर्दू समेत देसी भाषाओं में बना सकेंगे अपनी ईमेल आईडी

वहीं, 'हैलो' का अबाउट पेज कहता है कि हैलो नेटवर्क कंपनी की स्थापना ऑरकुट के संस्थापक बायुक्कॉकटेन ने की है और यह गूगल के पूर्व इंजीनियर्स का एक छोटा समूह है. कंपनी का मुख्यालय सैन फ्रांसिस्को में है जबकि इसका एक कार्यालय माउंटेन व्यू में है. 

वेंचर बीट की रिपोर्ट के मुताबिक यह ऐप एक्सटर्नल डाटा का इस्तेमाल नहीं करता और केवल यूजर्स के कॉन्टैक्ट्स ही खंगालता है. यूजर्स को फोटोग्राफर, फूडी आदि जैसा कोई अवतार चुनना पड़ता है. यह ऐप टेक्स्ट से ज्यादा विजुअल आधारित है. 

पोकेमॉन गोः यह धांसू ट्रिक अपनाएं, अनलिमिटेड लकी एग्स-इंसेंस पाएं

बायुक्कॉकटेन के मुताबिक हैलो के पीछे का विचार यह है कि दुनिया को ज्यादा दोस्ताना बनाया जाए. हमें इंतजार करना होगा और तब पता चलेगा कि दुनिया में हैलो कैसा काम कर पाता है.

बता दें कि 2014 में ऑरकुट को बंद किए जाने के वक्त इसके करीब 30 करोड़ यूजर्स थे. इसके बंद होने से फेसबुक के विकास को और ज्यादा फायदा पहुंचा और यह दुनिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला प्रभावी सोशल नेटवर्क बन गया. इसके पास प्रतिमाह 170 करोड़ सक्रिय यूजर्स हैं. जबकि इसके इंस्टाग्राम पर 50 करोड़ व्हॉट्सऐप और फेसबुक मैसेंजर पर भी प्रतिमाह 100 करोड़ के साथ  सक्रिय यूजर्स हैं. वक्त के साथ यह संख्या बढ़ती जा रही है.

बिना कोई बटन छुए अपने एंड्रॉयड स्मार्टफोन को ऑन करें

हालांकि जब ऑनलाइन दुनिया में फेसबुक की बादशाहत बढ़ती जा रही है, ऐसे में 'हैलो' का मुकाम क्या रहता है आने वाला वक्त बताएगा. लेकिन इतना तो तय है कि बादशाहत हमेशा के लिए नहीं होती और बदलाव को स्वीकार करना ही पड़ता है.

First published: 9 August 2016, 13:03 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियों-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी