Home » मनोरंजन » 'Newton' is Actor Raghubir Yadav's 8th Entry to the Oscars
 

आठ बार जिसकी फिल्मों को मिली आॅस्कर में एंट्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 September 2017, 10:36 IST

शुक्रवार को बॉक्स ऑफिस पर राजकुमार राव की फिल्म 'न्यूटन' रिलीज हुई. तब से हर जगह सिर्फ 'न्यूटन' की ही बात हो रही है.

वैसे बात होनी भी चाहिए, आखिर इस साल प्रतिष्ठित ऑस्कर अवॉर्ड्स में यही फिल्म भारत की ऑफिशियल एंट्री है. सब राजकुमार राव की तारीफ कर रहे हैं, लेकिन कोई भी उस एक्टर को नहीं याद कर रहा है, जो इस फिल्म में अहम किरदार में तो है ही, इससे पहले भी उनकी सात और फिल्में ऑस्कर जा चुकी हैं. ये हैं थियेटर से अपने करियर की शुरुआत करने वाले रघुवीर यादव.

तीन दशक लंबे अपने करियर में रघुवीर ऐसी 8 फिल्मों का हिस्सा रहे जो ऑस्कर्स तक गईं. इनमें सलाम बॉम्बे (1985), रुदाली (1993), बैंडिट क्वीन (1993), 1947 अर्थ (1999), लगान (2001), वाटर (2005), पिपली लाइव (2010) और न्यूटन (2017) के नाम शामिल हैं.

हालांकि रघुवीर अवॉर्ड्स पर ज्यादा ध्यान नहीं देते. उनका जोर हमेशा अच्छे सिनेमा में काम करने पर रहता है. उनका कहना है- ‘मैंने कभी इन चीजों के बारे में नहीं सोचा, ना ही हिसाब लगाया, क्योंकि मेरा पूरा ध्यान बतौर अभिनेता अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर रहा. मैं ऑस्कर के लिए फिल्म के जाने पर ध्यान नहीं देता, मुझे लगता है कि यदि फिल्म अच्छी होगी तो इसे वह प्यार और मान्यता मिलेगी, जिसकी वह हकदार है.’

रघुवीर के मुताबिक वो अपने किरदार के चयन को लेकर सजग रहते हैं और उन फिल्मों को तवज्जो देते हैं जिनके बारे में उन्हें लगता है कि यह दर्शकों पर प्रभाव छोड़ेगी. अगर फिल्म अच्छी है तो वो कहीं भी जाए, चाहे ऑस्कर हो या कोई और अवार्ड.

First published: 26 September 2017, 10:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी