Home » मनोरंजन » Padmavati Row: news Editors Arnab Goswami, Rajat Sharma watched padmavati film
 

मीडिया के दिग्गजों ने देखी पद्मावती, बोले 'फिल्म राजपूतों के लिए सबसे बड़ी श्रद्धांजलि'

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 November 2017, 12:46 IST

संजय लीला भंसाली की पद्मावती पर रिलीज की तारीख नजदीक आने के साथ ही विरोध के स्वर बुलंद हो गए हैं. राजपूतों ने एक आेर भंसाली का सिर काटने पर पांच करोड़ का इनाम रखा हैं वहीं दूसरी आेर दीपिका की नाक काटने की धमकी भी दी गर्इ है.

एेसे में इस फिल्म को मीडिया के दिग्गज रजत शर्मा आैर अरनब गोस्वामी को दिखाया गया है. जिसे देखकर दोनों की पत्रकारों ने फिल्म को पूरा समर्थन दिया है.

फिल्‍म देखने के बाद अरनब ने इसे ‘राजपूतों के लिए सबसे बड़ी श्रद्धांजलि’ बताया. अरनब ने अपने प्राइम टाइम शो में कहा कि फिल्‍म का हर सीन ‘रानी पद्मिनी की महानता’ को एक ‘सिनेमाई ट्रिब्‍यूट’ है. अरनब ने कहा, "जब फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर रिलीज होगी तो करणी सेना एक बार फिर खुद को बेवकूफ साबित करेगी. भाजपा को करणी सेना का साथ देकर खुद को शर्मिंदा करने की हुज्‍जत पर सोचना चाहिए." 

वहीं रजत शर्मा ने कहा कि फिल्‍म का कोई भी सीन ‘राजस्‍थान के लोगों या राजपूतों की आन-बान-शान के खिलाफ नहीं’ है. उन्‍होंने अपने प्राइम टाइम शो में कहा, " फिल्‍म देखने के बाद मैं दावे से कह सकता हूं कि कोई नहीं कह पाएगा कि पूरी फिल्‍म की थीम में कुछ ऐसा है कि हमारे गौरवशाली राजपूती इतिहास के खिलाफ हो." 

आपको बता दें कि केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड ने भी फिल्‍म को मंजूरी नहीं दी है. इसकी वजह फिल्म में किसी टेक्निकल खामी का होना है. वहीं फिल्म को विरोध के चलते देरी से रिलीज करने की बात भी कही है, लेकिन निर्माताओं द्वारा आधिकारिक बयान अभी जारी नहीं किया गया है.

First published: 18 November 2017, 12:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी