Home » मनोरंजन » Shatrughna Sinha asked about silence of Amitabh, Aamir, Shahrukh, PM Modi on Padmavati
 

पद्मावती पर क्यों खामोश हैं बादशाह, वजीर और गजनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2017, 14:34 IST

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. यूं तो फिल्म की रिलीज फिलहाल के लिए टाल दी गई है, लेकिन फिर भी इस फिल्म को लेकर बयानबाजी जारी है. अब बॉलीवुड अभिनेता और भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने पद्मावती पर चुप्पी साधने को लेकर वजीर-ए-आजम, शहंशाह, बादशाह और गजनी से जवाब मांगा है.

ताजा मामले में अभिनेता-राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने फिल्म 'पद्मावती' के विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमिताभ बच्चन की चुप्पी पर सवाल उठाया है. शत्रुघन ने बुधवार को ट्वीट किया, "चूंकि पद्मावती एक ज्वलंत मुद्दा बन गया है, लोग पूछ रहे हैं कि महान अभिनेता अमिताभ बच्चन, सबसे बहुमुखी अभिनेता आमिर खान और सबसे लोकप्रिय अभिनेता शाहरुख खान की इस पर कोई टिप्पणी क्यों नहीं आई है. और हमारे सूचना प्रसारण मंत्री और हमारे सबसे लोकप्रिय माननीय प्रधानमंत्री (पीईडब्ल्यू के अनुसार-अमेरिकन थिंक टैंक पीईडब्ल्यू पोल) इस पर चुप्पी क्यों साधे हुए हैं."

उन्होंने यह भी कहा कि वह फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के हितों और राजपूतों की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए ही इस विवाद के बारे में बात करेंगे.

उन्होंने कहा, "जहां तक मेरा सवाल है, मुझे महान फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के बोलने के बाद ही पद्मावती के मुद्दे पर बात करनी चाहिए. मैं फिल्मकारों के हितों के साथ ही महान राजपूतों की संवेदनशीलता, वीरता, वफादारी को ध्यान में रखकर ही बोलूंगा."

'पद्मावती' में अभिनेता रणवीर सिंह दिल्ली के सुल्तान अलाउद्दीन खिलजी की भूमिका निभा रहे हैं. भंसाली के अनुसार यह फिल्म राजपूत रानी पद्मावती की वीरता को श्रद्धांजलि है, जिनका किरदार दीपिका पादुकोण निभा रही हैं.

वहीं, विवादों के बीच एक भाजपा नेता ने भंसाली और दीपिका के सिर काटने वाले के लिए 10 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

गौरतलब है कि ऐतिहासिक तथ्यों के साथ कथित तौर पर छेड़छाड़ के आरोप में रूढ़िवादी समूहों के विरोध के बाद फिल्म विवादों में घिरी है.

फिल्म पहले 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली थी, जिसे स्थगित कर दिया गया है क्योंकि फिल्म निर्माता को अभी तक सेंसर बोर्ड से प्रमाण पत्र नहीं मिला है.

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

First published: 22 November 2017, 14:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी