Home » मनोरंजन » Sushant Singh Rajput Suicide: BJP MP Nishikant Dubey writes a letter to Amit Shah
 

सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड: BJP सांसद ने अमित शाह को लिखा पत्र, बोले- जांच के लिए SIT का गठन हो

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 June 2020, 14:50 IST

Sushant Singh Rajput Suicide: बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या को लेकर भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने देश के गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है. बीजेपी सांसद ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई, एनआईए, ईडी और आयकर विभाग के अधिकारियों के विशेष जांच दल एसआईटी से कराने की मांग की.

निशिकांत दुबे ने कहा कि फिल्मोद्योग में किसी न किसी रूप में चल रही अवैध गतविधियों को नियंत्रित करने के लिए एक कानूनी ढांचे की जरूरत है. उन्होंने आरोप लगाया कि मुंबई के फिल्म उद्योग पर माफिया से रिश्ते रखने वालों का नियंत्रण है. ये माफिया लोग छोटे शहरों के प्रतिभाशाली अभिनेताओं की तरक्की में बाधा बनते हैं और आगे नहीं बढ़ने देते.

बीजेपी सांसद ने कहा कि छोटे शहरों के होनहार अभिनेता फिल्म उद्योग में अपनी जगह बनाने के लिए पूरी मेहनत करते हैं, और यदि वे किसी छोटे शहर से सुशांत सिंह राजपूत जैसे हैं तो माफिया से संबंध रखने वाले लोग उसे ऐसा परेशान करते हैं कि वह मजबूर आत्महत्या जैसा कदम उठा लेता है.

निधन के बाद सुशांत सिंह के बढ़ी फैन फॉलोइंग, इंस्टाग्राम पर बढ़े 2 मिलियन फॉलोअर्स

निशिकांत दुबे ने दावा किया कि मुंबई फिल्म उद्योग में अवैध पैसा लगाया जाता है. उन्होंने गृहमंत्री को लिखे पत्र में मांग की कि इन आरोपों की जांच करने तथा सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सच्चाई दुनिया के सामने लाने तथा फिल्म उद्योग के माफिया संबंधों का खुलासा करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय, CBI, आयकर विभाग और NIA अधिकारियों की एक एसआईटी टीम गठित की जाए.

इससे पहले निशिकांत दुबे ने उन प्रोड्यूसरों के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की है, जिन्होंने कथित तौर पर सुशांत को बायकॉट किया था. निशिकांत दुबे ने कहा था कि सुशांत की मौत की न्यायिक जांच होनी चाहिए, मुम्बई फ़िल्म इंडस्ट्री में व्याप्त माफियागिरी व सिंडिकेट को ख़त्म करने के लिए पूर्वांचल के कलाकारों को संघर्ष का बिगुल फूंकना चाहिए.

कंगना रनौत ने फैंस से की चीनी सामान बॉयकॉट करने की अपील, शेयर किया वीडियो

सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद अब आया उनके परिवार का बयान, बनेगा उनके नाम का फाउंडेशन

First published: 28 June 2020, 14:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी