Home » मनोरंजन » This ultimate cheat will give you unlimited incense & lucky eggs
 

पोकेमॉन गोः यह धांसू ट्रिक अपनाएं, अनलिमिटेड लकी एग्स-इंसेंस पाएं

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST

दुनिया में धूम मचाने वाले वीडियो गेम 'पोकेमॉन गो' को खेलने वाले यूजर्स यूं तो तमाम तरह की टिप्स और ट्रिक्स अपनाकर स्कोर बढ़ाने में लगे हुए हैं. लेकिन एक ऐसी धांसू ट्रिक है जिससे आप अपने ट्रेनर को ऊंचे लेवल्स के लिए ज्यादा एडवांस बना सकते हैं और गेम में आगे पहुंच सकते हैं.

इसके लिए इंसेंस और लकी एग्स का इस्तेमाल किया जाता है. इंसेंस वह जादुई धुएं वाली छड़ी हैं जिनका इस्तेमाल करके आपको पोकेमॉन ढूंढ़ने नहीं जाना पड़ता, वो खुद आपके पास आ जाते हैं. जबकि जब आप लकी एग्स का इस्तेमाल करते हैं तो यह अगले 30 मिनट में मिलने वाले सभी एक्सपी को दोगुना कर देते हैं.

जानेंः 7 कारण क्यों भारत में नहीं खेलना चाहिए पोकेमॉन गो

'पोकेमॉन गो' गेम में यह दोनों ही चीजें सीमित मात्रा में होती हैं. हालांकि आप पैसे देकर इन्हें खरीद सकते हैं, लेकिन पैसे कौन देना चाहता है? लेकिन ऐसा होता नहीं है और लोग ज्यादा वक्त देकर गेम खेलते हैं.

अब अगर आप इन दोनों की अनलिमिटेड सप्लाई पाना चाहते हैं तो इसका एक बेहतरीन तरीका है. इन दोनों चीजों यानी इंसेंस या फिर लकी एग्स को आप जैसे चाहे इस्तेमाल कर सकते हैं. एक-एक का अलग इस्तेमाल करें या फिर दोनों का एक साथ, जैसे भी.

केवल 6 स्टेप्स में एंड्रॉयड स्मार्टफोन पर खेलें पोकेमॉन गो

कैच ने यह तरीका (अंग्रेजी में गेमर्स इसे चीट भी कहते हैं) ढूंढ़कर अपने पाठकों तक पहुंचाने का जिम्मा लिया ताकि वे कम वक्त में ज्यादा स्कोर हासिल कर सकें.

जानिए कैसे काम करती है ट्रिक

  • सबसे पहले 'पोकेमॉन गो' को बिल्कुल बंद करके इससे बाहर निकल आएं.
  • अब अपने स्मार्टफोन (आईओएस या एंड्रॉयड) की सेटिंग्स पर जाएं.
  • टाइम एंड डेट मेनू पर जाएं और इसके ऑटोमैटिक टाइम/सेटिंग्स को बंद कर दें. 
  • अब टाइम सेटिंग्स पर जाएं और अपने स्मार्टफोन की घड़ी के मिनट पीछे कर दें (ध्यान रहे कि आप केवल 60 मिनट तक का ही वक्त पीछे कर सकते हैं, इसलिए इससे ज्यादा पीछे मत जाएं).
  • बैक बटन दबाकर सेटिंग्स से बाहर निकल आएं और होम स्क्रीन पर पहुंचे.
  • अब 'पोकेमॉन गो' गेम फिर से खोलें.
  • अब गेम में दिखेगा कि जितने मिनट आपने फोन की घड़ी पीछे की थी, उतने ही मिनट आपके इंसेंस/लकी एग्स में जुड़ गए.

First published: 26 July 2016, 8:10 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियोंं-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी