Home » मनोरंजन » women centric movie n bollywood women's day special
 

Women's Day Special: वुमन पावर की मिसाल हैं बाॅलीवुड की ये बेहतरीन फ़िल्में

ऋचा मिश्रा | Updated on: 8 March 2017, 13:08 IST
Queen - English Vinglish

बॉलीवुड में बनी कर्इ फिल्‍मों में हीरोइनों के किरदारों से महिला सशक्तिकरण की झलक नजर आई है. जिन्होंने 'बेचारी औरत' की छवि को खारिज कर दिया. हीरो के साथ रोमांस करने के साथ महिलाआें ने जिंदगी से रोमांस करने पर जोर दिया. दमदार किरदारों को दिखाती बाॅलीवुड की ये हैं टाॅप 12 बेहतरीन फिल्में... 

1. मदर इंडिया (1957) एक एेसी फिल्म जिसे किसी 'बाहरी' व्यक्ति को हिन्दी सिनेमा से परिचित कराया जाना रहा हो तो उसे जिन फिल्मों को देखने की सलाह दी जाती है, उनमें नरगिस की 'मदर इंडिया' है. कहा जाता है कि अगर आपने 'मदर इंडिया' नहीं देखी तो हिन्दी फिल्में नहीं देखीं. 

2. फिल्‍म 'अस्तित्‍व' में अदिति के किरदार में तब्बू अस्तित्‍व की लड़ाई लड़ती हुई नजर आईं. अदिति के किरदार के जरिए इस फिल्‍म में कहा गया कि महिलाओं को भी अपने जज्‍बातों को जाहिर करने का हक होना चाहिए. जैसे मर्दों का अपने जज्‍बातों पर कभी-कभी काबू नहीं रहता, वैसी परिस्थिति में कई बार महिलाएं भी खुद को खड़ा पाती हैं.

3. करिश्‍मा कपूर ने फिल्‍म फिजा में जो किरदार निभाया, उसे उनकी अब तक की बेहतरीन परफॉर्मेंस कहा जाता है. इस फिल्‍म में एक महिला के मजबूत किरदार को दिखाया गया था, जो घर को आर्थिक और भावनात्‍मक रूप से संभालती है. भाई को इंसाफ दिलाने के लिए वह राजनेताओं के साथ-साथ अपराधियों से भी लोहा लेना से पीछे नहीं हटती है.

4. आम तौर पर फिल्‍मों की कहानी घर के बेटे के इर्द-गिर्द घूमती नजर आती है, जिसमें पूरे घर की जिम्‍मेदारी उसी के कंधों पर होती है. इसके साथ ही पीकू अपने करियर पर भी पूरा फोकस रखती है. पीकू की कहानी उन लाखों महिलाओं के लिए प्रेरणास्रोत है, जो घर के साथ-साथ ऑफिस भी संभालना चाहती हैं.

5. अगर किसी लड़की की शादी टूट जाए, तो कुछ समय के लिए उसका खुद पर से विश्‍वास ही डगमगा जाता है. वह लोगों की नजरों का सामना करने से भी बचती है. लेकिन फिल्‍म 'क्‍वीन' में रानी इससे उलट शादी टूटने के बाद अपने हनीमून पर अकेले ही जाने का फैसला करती है. यूरोप घूमती है, इस दौरान कुछ अच्‍छे दोस्‍त बनाती है. कंगना के इस किरदार ने लाखों लड़कियों का हौसला बढ़ाया.

6. नो वन किल्‍ड जेसिका (2011) राजकुमार गुप्ता द्वारा निर्देशित फिल्म सनसनीखेज जेसिका लाल हत्याकांड पर आधारित थी. सबरीना और मीरा गैटी की भूमिकाओं में विधा और रानी से बेहतरीन दूसरा कोई कलाकार हो ही नहीं सकता था. महिला पत्रकार की भूमिका ने लोगों की सोच को बदल दिया.

7. सोनम कपूर स्टारर ‘नीरजा’ सबको पसंद आई. ये फिल्म फ्लाइट अटेंडेंट नीरजा भनोट की असल ज़िन्दगी पर आधारित है जिन्हें लोगों की जान बचाने के दौरान विमान हाईजैक करने वाले आतंकवादियों ने मार डाला था.

8. फिल्म NH10 में अनुष्का का एक अलग रूप देखने को मिला. फिल्म ऑनर किलिंग पर आधारित थी. फिल्म को अनुष्का ने खुद प्रोड्यूस भी किया था. 

9. बॉलीवुड एक्ट्रेस श्रीदेवी ने साल 2012 में फिल्म ‘इंग्लिश विंग्लिश’ से बॉलीवुड में कमबैक किया. इस फिल्म में वो एक ऐसी महिला का किरदार निभाती हैं, जिसे इंग्लिश ना आने की वजह से अपने सोसाइटी और परिवार में दिक्कत होने लगती है और वो इंग्लिश सीखने की क्लास लगा लेती है. 

10. 2014 में आई प्रियंका चोपड़ा की फिल्म ‘मैरी कॉम’ को हर वर्ग के लोगों ने देखा और पसंद किया है. ये फिल्म इंडिया की ओलंपिक चैंपियन मैरी कॉम के असल ज़िन्दगी पर आधारित है. फिल्म साल की बेस्ट फिल्मों में से एक थी और प्रियंका की एक्टिंग ने सबका दिल जीता.

11. पिंक: अपने सब्‍जेक्‍ट और महिलाओं को आधुनिक दौर के नजरिए से देखने और समझाने की कोशिश करने वाली फिल्‍म 'पिंक', इन दिनों कई लोगों की खास पसंद बनी हुई है. इसे हाल ही में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी सराहा.

12. दंगल: महिला पहलवान गीता फोगाट पर बनीं इस फिल्म ने लोगों से जमकर तारीफें बटोरी. साथ ही फिल्म में महिला के संघर्ष की दास्तां को बेहद खूबसूरती से बयां किया गया.

First published: 8 March 2017, 13:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी