Home » एन्वायरमेंट » An unique place found on earth where there is no trace of life
 

पृथ्वी पर मिली अनोखी जगह, जहां जीवन की नहीं कोई संभावना

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 November 2019, 10:38 IST

अब तक हम मानते रहे हैं पृथ्वी पर हर जगह जीवन की संभावनाएं है यानी पृथ्वी के हर स्थान पर इंसान जीवित रह सकता है. जहां हवा, पानी, ऑक्सीजन और सूर्य का प्रकाश पहुंचता है. जहां कोई ना कोई जीव जिंदा रह सकता है, लेकिन शोधकर्ताओं ने पृथ्वी पर एक ऐसे जलीय वातावरण को खोज निकाला है. पृथ्वी के दूसरे स्थानों की तरह जीवन की कोई संभावना तक नहीं है. इस खोज का मकसद जीवन की संभावनाओं को कम करने वाले घटकों के बारे में शुरुआती जानकारी हासिल करना है.

दरअसल, शोधकर्ताओं ने जिस स्थान की खोज की है वह इथियोपिया के डैलोल में जियो थर्मल क्षेत्र के गर्म और खारे तालाबों की हैं. इन तालाबों में किसी भी तरह के सूक्ष्म जीव तक मौजूद नहीं पाए गए. ‘नेचर इकॉलॉजी ऐंड इवोल्यूशन’ नामक जर्नल में प्रकाशित इस अध्ययन से पता चला है कि इथियोपिया ये तालाब बहुत ज्यादा एसिडिक प्रॉपर्टी वाले भी हैं. जिसके चलते यहां जीवन पूरी तरह से असंभव है. स्पैनिश फाउंडेशन फॉर साइंस एंड टेक्नॉलजी (FRCYT) के शोधकर्ता वैज्ञानिकों ने बताया कि डैलोल क्षेत्र नमक से भरे ज्वालामुखी के क्रेटर पर स्थित है.

शोधकर्ताओं ने पाया कि हाइड्रोथर्मल गतिविधियों के चलते इस क्रेटर से लगातार उबलता पानी और जहरीली गैसें निकलती रहती हैं. यहां कड़ाके की सर्दियों में भी तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से अधिक होता है और यह पृथ्वी पर स्थित सबसे गर्म वातावरण वाले क्षेत्रों में से एक है. अनुसंधानकर्ताओं के मुताबिक, डैलोल में जियो थर्मल क्षेत्र में अत्यधिक खारे और अल्ट्रा एसिडिक तालाबों मेें शून्य अल्ट्रा एसिडिक से लेकर 14 उच्च एल्कलाइन के मानक तक पीएच स्तर शून्य से भी कम यानी नकारात्मक बिंदु तक पहुंच जाता है. इसी के चलते इस स्थान पर किसी भी जीव या सूक्ष्म जीवों के पनपने की संभावना भी न के बराबर है.

इस नए अध्ययन के मुताबिक इस स्थान को मंगल ग्रह जैसा माना जा चुका है. इस अध्ययन की सह-लेखिका लोपेज गार्सिया का कहना है कि, "पिछले अनुसंधानों की तुलना में हमने इस बार अधिक नमूनों की जांच की और पाया कि इन खारे, गर्म और अल्ट्रा एसिडिक तालाबों में सूक्ष्म जीवों के पनपने की भी संभावना शून्य है." बता दें कि अब हम पर्यावरण से जुड़े सभी संगठन ये मानते रहे हैं हमारी पृथ्वी का हर कोई यानी हर छोटी से छोटी जगर पर कोई ना कोई सूक्ष्म जीव जरूर पाया जाता है. लेकिन इस शोध के सामने आने से इस तरह की कयासों को पूरी तरह से खत्म कर दिया.

ये भी पढ़ें-

फोन से चेक कीजिये अपने इलाके का प्रदूषण, डाउनलोड कीजिये ये एप्स

अभी से हो जाएं सावधान, इस बार जल्दी ही पड़ने लगेगी कड़ाके की ठंड, कंपा देगी आपकी रूह

जलवायु परिवर्त से दुनिया पर मंडरा रहा तबाही का खतरा, पानी में समा जाएंगे ये द्वीप

First published: 24 November 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी