Home » एन्वायरमेंट » Minimum temperature of Delhi has reached 4 degree after heavy snow fall on hills
 

आ गई दिल्ली की सर्दी: 5 साल का टूटा रिकॉर्ड, पारा पहुंचा 4 डिग्री सेल्सियस

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 January 2017, 10:54 IST

पहाड़ों पर हुई बर्फबारी का असर अब राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नजर आ रहा है. दिल्ली में बुधवार सुबह कड़ाके की सर्दी ने पिछले पांच साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. राजधानी का न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. 

इस बीच कोहरे की वजह से ट्रेनों के संचालन पर बुरा असर पड़ा है. 26 ट्रेनें देरी से चल रही हैं, जबकि 7 ट्रेनों का समय बदला गया है, वहीं 11 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. इसके अलावा छह इंटरनेशनल और घरेलू उड़ानें भी लेट हुई हैं.

शिमला में कई दिन से हुई बर्फबारी के बाद उत्तर भारत में पारा गिर गया है. बुधवार सुबह छह बजे दिल्ली के सफदरजंग इलाके में सुबह का न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. यह पिछले पांच साल का न्यूनतम स्तर है. वहीं मंगलवार को पारा 5.1 डिग्री तक पहुंच गया था.

हिमाचल प्रदेश के इलाकों में कई दिन से बर्फबारी हो रही है. (एएनआई)

अगले दो-तीन दिन सर्दी का सितम

मौसम विभाग के मुताबिक अगले दो-तीन दिन कड़ाके की सर्दी से राहत मिलने के आसार नहीं हैं. नेशनल वेदर फोरकास्टिंग सेंटर की प्रमुख के सथीदेवी का कहना है, "शनिवार को बादल घिरे थे, बारिश भी हुई थी, ये वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से हुआ. पश्चिमी विक्षोभ तो चला गया है, लेकिन अब ठंडी हवाओं का अटैक हो रहा है. मंगलवार को सफदरजंग में तापमान 5.1 डिग्री रिकॉर्ड किया गया. अगले 2 दिन में तापमान में 2 से 3 डिग्री की गिरावट और आएगी."

मौसम विभाग का कहना है कि फिलहाल बारिश के कोई आसार नहीं हैं. राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में अगले दो दिन पारा 2 डिग्री तक गिर सकता है. मौसम विभाग ने हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और राजस्थान के इलाकों में भी शीत लहर का अलर्ट जारी किया है.

हिमाचल के शिमला, मनाली, किन्नौर और लाहौल-स्पीति में पारा माइनस में चल रहा है. (एएनआई)

हिमालय की सर्द हवाएं मैदानों में

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर में भारी बर्फबारी के बाद उत्तर-पश्चिम के मैदानी इलाकों में पारे में गिरावट का दौर शुरू हो गया है. पश्चिमी विक्षोभ के आगे निकलने की वजह से मैदानी इलाकों में भी आसमान साफ है. वहीं हिमालय से ठंडी हवाएं मैदानी इलाकों की तरफ बढ़ गई हैं.

मौसम विभाग के मुताबिक शीत लहर का असर 10 जनवरी रात से पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में दिख रहा है. उत्तर-पश्चिम भारत के तमाम इलाकों में हवा की दिशा बदलकर उत्तर-पश्चिम हो गई है. 

हिमाचल में माइनस में पारा

हिमालय की ठंडी और शुष्क हवाएं डेढ़ किलोमीटर से लेकर 4 किलोमीटर की ऊंचाई तक मैदानी हवाओं में मिलना शुरू हो गई हैं. मौसम विभाग के मुताबिक इसकी वजह से 13 जनवरी तक गंगा-यमुना के दोआबे में दो से लेकर चार डिग्री के बीच गिरावट दिखने का अनुमान है. 

हिमाचल प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान तापमान में और गिरावट दर्ज हुई है. लाहौल-स्पीति के केयांग में माइनस 11.4 डिग्री, किन्नौर के कालपा में माइनस 8.6 डिग्री, जबकि मनाली में माइनस 6.6 डिग्री और शिमला में माइनस 3.2 डिग्री तापमान रिकॉर्ड हुआ है.

First published: 11 January 2017, 10:54 IST
 
अगली कहानी