Home » एन्वायरमेंट » Cyclone Amphan became more dangerous, Meteorological Department issued warning for Odisha and west bengal
 

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान 'अम्फान' हुआ खतरनाक, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2020, 9:11 IST

Cyclone Amphan Update: बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) से उठा चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ (Cyclone Amphan) खतरनाक होता जा रहा है. मौसम विभाग (Meteorological Department) ने इसे लेकर चेतावनी (Warning) जारी की है. इसके पश्चिम बंगाल (West Bengal) और ओडिशा (Odisha) के तट से टकराने की संभवना है. इसके चलते दोनों राज्यों के साथ कुछ अन्य राज्यों में भी भारी बारिश (Heavy Rain) होने की संभावना है. जिसे देखते हुए मौसम विभाग ने दोनों राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया है और मछुआरों को सोमवार से समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है.

कोलकाता स्थित मौसम विभाग के क्षेत्रीय निदेशक जीके दास का कहना है कि अम्फान के 20 मई की दोपहर से शाम के बीच सागर द्वीप के पास टकराने की आशंका है. इसकी वजह से उत्तर और दक्षिण 24 परगना, कोलकाता, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर के तटीय इलाकों में मंगलवार से हल्की से भारी बारिश की उम्मीद है. उसके बाद 20 मई को इन जिलों के ज्यादातर स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में मंगलवार दोपहर से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी जोकि अगले दिन सुबह तक 85 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच जाएंगी.


तटीय इलाकों में तबाही मचा सकता है चक्रवाती तूफान, दिल्ली में कल भारी बारिश और आंधी की संभावना

पश्चिम बंगाल सरकार ने कहा है कि सरकारी तंत्र हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं. पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव राजीव सिन्हा ने एक उच्चस्तरीय बैठक में तूफान की स्थिति और इससे निपटने की तैयारियों की समीक्षा की है. वहीं ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त का कहना हैने बताया कि गंजम, गजपति, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, भद्रक, बालासोर, मयूरभंज, कटक, खुर्दा और नयागढ़ के जिला प्रशासन को सतर्क रहने को कहा है.

मौसम विभाग ने दी चेतावनी, बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान और होगा तेज

चक्रवादी तूफान अम्फान के प्रकोप को देखते हुए जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक और बालासोर पर करीबी नजर रखी जा रही है. निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का फैसला स्थिति की समीक्षा के बाद लिया जाएगा. सरकार ने इस इलाके के करीब 11 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने का इंतजाम किया है.

कोरोना संकट के बीच देश पर मंडराया चक्रवाती तूफान का खतरा, 12 घंटे में यहां आ सकती है भयानक तबाही

First published: 18 May 2020, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी