Home » एन्वायरमेंट » Delhi's air quality reached 'Very poor' category, complain if someone sees pollution
 

दिल्ली की एयर क्वालिटी 'वेरी पुअर' श्रेणी में पहुंची, प्रदूषण करते कोई दिखे तो ऐसे करें शिकायत

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 November 2020, 9:38 IST

 Delhi air quality index (AQI): केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के अनुसार सोमवार को लगातार तीसरे दिन दिल्ली की वायु गुणवत्ता (air quality) 'बहुत खराब' श्रेणी में रही. एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) सोनिया विहार में 362, बवाना में 345, पटपड़गंज में 326 और जहाँगीरपुरी में 373 दर्ज किया गया. CPCB डेटा के अनुसार सभी चारों जगह बहुत खराब' श्रेणी में हैं.

0-50 के बीच AQI अच्छी श्रेणी में आती है, जबकि 51-100 संतोषजनक(satisfactory), 101-200 मध्यम, 201-300 खराब मानी जाती है, 301-400 बहुत खराब और 401-500 गंभीर मानी जाती है. बढ़ते वायु प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने "ग्रीन दिल्ली" ऐप लॉन्च किया है, जो लोगों को प्रदूषण विरोधी मानदंडों के उल्लंघन के बारे में शिकायत दर्ज करने में सक्षम करेगा.


केजरीवाल ने कहा "आज हम हर नागरिक को शामिल करने के लिए ग्रीन दिल्ली ऐप लॉन्च कर रहे हैं. आप इस ऐप के माध्यम से प्रदूषण के बारे में किसी भी तरह की शिकायत दर्ज कर सकते हैं, जो कि प्ले स्टोर पर उपलब्ध है. यदि आप कहीं औद्योगिक प्रदूषण या धूल (industrial pollution or dust) देखते हैं, तो आप इसका वीडियो, फोटो अपलोड कर सकते हैं. इस जगह की लोकेशन तुरंत अधिकारियों तक पहुंच जाएगी.

मौसम विभाग (IMD) के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो 26 साल में अक्टूबर में सबसे कम था. वर्ष में इस समय के लिए सामान्य न्यूनतम तापमान 15 से 16 डिग्री सेल्सियस रहता है. आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पिछली बार अक्टूबर में दिल्ली में इतना कम तापमान 1994 में दर्ज किया गया था. आईएमडी के आंकड़ों के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी में 31 अक्टूबर 1994 को न्यूनतम 12.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.

Weather Update : दिल्ली में दर्ज किया गया 26 साल में सबसे तक तापमान, इन राज्यों में होगी भारी बारिश

First published: 2 November 2020, 9:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी