Home » एन्वायरमेंट » first chandra grahan of this years on 31 january, blood moon, lunar eclipse, chandra grahan 2018, chandra grahan timing
 

31 जनवरी को होगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, मिलेंगे ये शुभ फल

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 January 2018, 17:44 IST

इस महीने की 31 तारीख को चंद्र ग्रहण होने वाला है. ये चंद्र ग्रहण साल का पहला चंद्र ग्रहण होगा. जो पूरी तरह से 77 मिनट के लिए गायब हो जाएगा. बता दें कि इस साल में कुल पांच ग्रहण होंगे, जिनमें से 3 सूर्य ग्रहण और 2 चंद्र ग्रहण हैं. 31 तारीख को होने वाला चंद्र ग्रहण शाम 5.58 मिनट पर शुरू हो रहा है और रात 8.41 मिनट तक चलेगा.

चंद्र ग्रहण के दौरान कुछ कामों को करना शुभ माना जाता है. साथ ही कुछ काम अशुभ फल देने वाले होते हैं. ज्योतिषाचार्य किन कामों को शुभ और अशुभ मानते हैं. इन्हीं कामों के बारे में हम आज आपको बताएंगे. साथ ही बताएंगे कि चंद्र ग्रहण कब और कैसे होता है.

ये भी पढ़ें- तालिबान ने काबुल में किया जानलेवा बम ब्लास्ट, 40 की मौत,140 घायल

कैसे होता है चंद्र ग्रहण

जब पृथ्वी, सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है तब वह चंद्रमा पर पड़ने वाली सूर्य की किरणों को रोकती है और उसमें अपनी छाया बनाती है. इस घटना को चंद्र ग्रहण कहा जाता है. इसे ब्लड मून भी कहा जाता है. विज्ञान के अनुसार चंद्र ग्रहण और सूर्य ग्रहण एक तरह की खगोलीय स्थिति है. जिनमें चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य तीनों एक ही सीधी रेखा में आ जाते हैं. इससे चंद्रमा पृथ्वी की उपछाया से होकर गुजरता है, इससे चंद्रमा की रोशनी फीकी पड़ जाती है.

चंद्र ग्रहण के दौरान क्या न करें

चंद्र ग्रहण के समय खुले आकाश में निकलने से बचना चाहिए. इस दौरान खासकर प्रेग्नेंट महिलाएं, बुजुर्ग, रोगी और बच्चे खुले आसमान के नीचे नहीं जाना चाहिए. मान्यताओं के मुताबिक ग्रहण के दौरान खाना भी नहीं खाना चाहिए. यानि खाना चंद्र ग्रहण से पहले या बाद में ही खाना चाहिए. चंद्र ग्रहण के दौरान किसी भी तरह का शुभ कार्य ना करें. साथ ही पूजा-पाठ करने से बचना चाहिए. बतादें कि इसीलिए ग्रहण के दौरान मंदिर के द्वार भी बंद कर दिए जाते हैं.

चंद्र ग्रहण के दौरान करें ये काम

चंद्र ग्रहण के दिन कुछ काम करने को शुभ माना जाता है. इस दिन दान करना चाहिए. साथ ही दान में आटा, चावल, चीनी, दाल जैसी चीजों को देना शुभ माना जाता है. वहीं ग्रहण के बुरे प्रभाव से बचने के लिए दुर्गा चालीसा या श्रीमदभागवत गीता आदि का पाठ करना चाहिए. कहा जाता है कि साढ़े-साती से परेशान लोगों को शनि मंत्र का जाप करना चाहिए साथ ही हनुमान चालीसा भी पढ़ सकते हैं.

First published: 27 January 2018, 17:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी