Home » एन्वायरमेंट » Heavy rain and thunder storm may be in these states in India
 

देश के इन राज्यों में बिगड़ने वाला है मौसम का मिजाज, मूसलाधार बारिश से बढ़ सकती है परेशानी

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 October 2019, 11:03 IST

मौसम तेजी से करवट बदल रहा है. ऐसे में देश के कई इलाकों में भारी बारिश का खतरा मंडरा रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक, देश के कई हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है. मौसम विभाग के मुताबिक, दक्षिण पश्चिम मानसून तेलंगाना में अति सक्रिय रहा है. जबकि दक्षिण आंतरिक कर्नाटक पर सक्रिय रहा.

इसके अलावा असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल में गंगा के तटीय इलाके, झारखंड, बिहार, मध्य प्रदेश, गुजरात और विदर्भ में दक्षिण पश्चिमी मानसून इस बार कमजोर रहा है. इस बार दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तरी अरब सागर, गुजरात, पश्चमी मध्य प्रदेश, झारखंड, बिहार के कुछ और हिस्सो तथा पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में समाप्त हो गया.

वहीं अगर बात करें पूर्वी और मध्य भारत की ज्यादातर इलाकों, उत्तर पूर्वी भारत और पश्चिम भारत के कुछ हिस्सों से उत्तरी अरब सागर के शेष हिस्सों से तथा मध्य अरब सागर के कुछ और हिस्सों से अगले 2-3 दिन में मानसून के समाप्त होने की स्थिति अनुकूल रहने का अनुमान है. वहीं हिमाचल प्रदेश, पंजाब और पश्चिम मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में सामान्य से नीचे रहा है. राजस्थान के बाड़मेर में सबसे अधिक तापमान 37.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश और सौराष्ट्र और कच्छ के कुछ हिस्सों में रात का तापमान सामान्य से नीचे हो गया है. सबसे कम तापमान पश्चिमी राजस्थान के सीकर में 15.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. इसके अलावा ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तटीय कर्नाटक और केरल में अलग-अलग स्थानों पर शनिवार रात का 20.30 बजे से आज सुबह 08.30 बजे तक तेज हवा और आंधी का प्रभाव रहा.

अब अगले 24 घंटे के दौरान आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों, यनम, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और कराईकल, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश का अनुमान लगाया जा रहा है. ओडिशा, कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, छत्तीसगढ़, तटीय आंध्र प्रदेश, यनम, तेलंगाना, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कराईकल, आंतरिक कर्नाटक और केरल और माहे में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बारिश होने की उम्मीद है.

बता दें कि पिछले 24 घंटे के दौरान केरल के अधिकतर हिस्सों में तथा पश्चिम बंगाल के पर्वतीय इलाके, सिक्किम, तेलंगाना, तटीय कर्नाटक, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और लक्षद्वीप में कई स्थानों पर बारिश हुई. वहीं नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, ओडिशा, मराठवाड़ा और तटीय आंध्र प्रदेश में कुछ स्थानों पर तथा अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, बिहार, पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, गुजरात, कोंकण, गोवा, मध्य महाराष्ट्र, रायलसीमा, तमिलनाडु और उत्तर आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर बारिश हुई.

इन इलाकों में एक बार फिर से गरज के साथ बारिश होने की उम्मीद है. मुख्य रूप से पश्चिम बंगाल के गंगा के मैदानी इलाके, झारखंड, पूर्व मध्य प्रदेश अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में मौसम शुष्क रहा.

रेलवे ने त्योहारों के लिए फिर बढ़ाई स्पेशल ट्रेनों की संख्या, दिवाली और छठ के लिए अभी भी मिल रहा टिकट

First published: 13 October 2019, 14:11 IST
 
अगली कहानी