Home » एन्वायरमेंट » IMD declares cyclone alert over the south east Bay of Bengal by 16th May
 

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, 16 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, ये इलाके होंगे प्रभावित

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 May 2020, 11:11 IST

Weather Forecast: देश में एक बार फिर से मौसम (Weather) करवट बदल रहा है. पिछले दिनों देश के कई राज्यों में धूल भरी तेज हवाओं के साथ हल्की-फुल्की बारिश (Rain) ने इस बात के संकेत दिए हैं. इसी के सात दिन में तेज गर्मी और रात को अचानक मौसम में बदलवा जारी है. अब मौसम विभाग (Meteorological Deaprtment) ने मौसम को लेकर नया अपडेट जारी किया है. विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) के दक्षिण पूर्वी क्षेत्र और उससे सटे दक्षिण अंडमान सागर (South Andman Sea) पर निम्न दबाव का एक क्षेत्र बन रहा है. इससे ऐसा माना जा रहा है कि इससे 16 मई की शाम तक एक चक्रवाती तूफान तैयार हो सकता है.

इसके साथ ही दक्षिण अंडमान सागर पर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में देश के कई राज्यों में धूल भरी आंधी भी चल सकती है और कहीं-कहीं बूंदाबांदी भी हो सकती है. मौसम विभाग के मुताबिक, दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर और दक्षिण अंडमान सागर के पास एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिससे चक्रवाती तूफान के विकसित होने की संभावना है. इस तूफान का नाम अम्फान (Amphan) रखा गया है. मौसम विभाग का कहना है कि यदि तूफान विकसित हुआ तो फिर यह उत्तर पूर्व की तरफ बढ़ेगा और अंडमान-निकोबार में 15-16 मई को भारी बारिश हो सकती है. हालांकि, मौसम विभाग ने कहा है कि इस चक्रवाती तूफान से केरल सीधे प्रभावित नहीं हो सकता है. 


पृथ्वी पर एलियन के आने और दूसरे ग्रहों पर जीवन की क्या है सच्चाई? पेंटागन ने जारी किए वीडियो

ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि केरल में इस तूफान के प्रभाव के बगैर 17 मई तक भारी बारिश हो सकती है. केरल में बारिश के साथ हल्की और तेज हवा चलने का भी अनुमान है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मद्देनजर, केरल के विभिन्न जिलों में एक यलो अलर्ट जारी किया गया था. मौसम विभान ने चेतावनी दी है कि, बंगाल की खाड़ी और दक्षिण अंडमान सागर पर कम दबाव का क्षेत्र शुक्रवार को तेज हो सकता है जो शनिवार शाम तक चक्रवाती तूफान में बदल सकता है.

सूरज की रोशनी में आई पांच गुना कमी, नौ हजार साल से जारी है ये सिलसिला, वैज्ञानिक हैरान

उत्तर प्रदेश में बारिश-ओलावृष्टि और तेजी आंधी के आसार, अगले 48 घंटों फिर बिगड़े का मौसम

इसके अलावा मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि, 15 मई को दक्षिण और बंगाल की खाड़ी के आस 45-55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं जो बढ़कर 65 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच सकती है. इसके अलावा मौसम विभाग का कहना है कि गुरुवार और शुक्रवार को दक्षिण के तमिलनाडु, कर्नाटक और लक्ष्यद्वीप में भी तेज बारिश हो सकती है. इसके अलावा उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर, यूपी, हरियाणा और पंजाब में तेज हवाओं के साथ बारिश होने की संभावना है. जहां मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

दिल्ली-एनसीआर समेत इन राज्यों में तेज आंधी और बारिश से बिगड़ेगा मौसम का मिजाज

First published: 14 May 2020, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी