Home » एन्वायरमेंट » IMD say Vayu Cyclone very likely to move nearly northward and cross Gujarat
 

चक्रवाती तूफान 'वायु' गुजरात में मचा सकता है भारी तबाही, सेना और NDRF की टीम अलर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 June 2019, 14:15 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

एक तरफ जहां उत्तर मध्य भारती भीषण गर्मी से जूझ रहा है वहीं दूसरी और गुजरात पर चक्रवाती तूफान का खतरा मंडरा रहा है. भारतीय मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने की वजह से चक्रवाती तूफान 'वायु' तेज हो गया है. विभाग के मुताबिक अब ये तूफान गुजरात की ओर तेजी से बढ़ रहा है. जिसके चलते गुजरात के तटीय इलाकों में चक्रवात का खतरा मंडरा रहा है.

बताया जा रहा है कि ये चक्रवात नॉर्थ वेस्ट अमीनिदीवी (लक्षद्वीप) से 380 किलोमीटर, साउथ वेस्ट मुंबई (महाराष्ट्र) में 630 किलोमीटर और वेरावल (गुजरात) के साउथ में 780 किलोमीटर की दूरी पर है. ऐसा माना जा रहा है कि कि चक्रवात के चलते सौराष्ट्र और कच्छ के इलाके में 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के साथ ही भारी बारिश भी हो सकती है. जिसके चलते मछुआरों को समुद्र में ना जाने की हिदायत दी गई है.

बताया जा रहा है कि चक्रवाती तूफान वायु उत्तर और उत्तर-पश्चिम दिशा में गुजरात की ओर बढ़ रहा है. इसके चलते केरल के कुछ हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है. वहीं इसके चलते कर्नाटक के तटीय इलाकों में भी भारी बारिश हो सकती है. कम दबाव वाले क्षेत्र ने गर्म समुद्री हवाओं की वजह से सोमवार को डिप्रेशन का रूप ले लिया था जो मंगलवार को चक्रवात में बदल गया.

इस चक्रवाती तूफान को भारत ने वायु नाम दिया है. मौसम विभाग का कहना है कि गुरुवार तक 'वायु' तूफान अपने चरम पर होगा. तब इसकी रफ्तार 135 किमी प्रति घंटे से ज्यादा पहुंच जाएगी. मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है. विभाग ने मछुआरों को अगले कुछ दिनों तक केरल तट, लक्षद्वीप और उससे लगे दक्षिणपूर्व अरब सागर में ना जाने दिया जाए.

मानसून ने केरल में दी दस्तक, झमाझम बारिश से खुशनुमा हुआ मौसम, उत्तर भारत में गर्मी का कहर जारी

First published: 11 June 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी