Home » एन्वायरमेंट » India's tallest tower will be constructed on behalf of Environmental Sacrifice
 

विश्व पर्यावरण दिवस: 300 साल पहले हुए चिपको आंदोलन के शहीदों की याद में अब बनेगा स्मारक

पवन बिश्नोई | Updated on: 5 June 2016, 13:58 IST

इस समय फतेहबुर्ज (328 फीट) देश की सबसे उंची मीनार है, अब पंजाब सरकार इससे भी ज्यादा उंचार्इ वाली मीनार बनवाने जा रही है. यह मीनार बनेगी पंजाब की अबोहर तहसील के सीतोगुनो गांव में.

जिस स्मारक कम नेचर पार्क में 363 फीट उंची मीनार बनेगी, वह खेजड़ी वृक्ष की रक्षा के लिए अपने प्राणों का बलिदान देने वाली पर्यावरण प्रेमी अमृता देवी आैर उनके सहयोगियों को समर्पित होगी. पंजाब राज्य कैबिनेट ने प्रोजेक्ट को पारित करते हुए इसके लिए 25 करोड़ रूपए का बजट पास किया है.

ये है प्रोजेक्ट नेचर पार्क कम स्मारक

जानकारी के अनुसार पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पर्यावरण के लिए अपने प्राणों का बलिदान देने वाले 363 लोगों की याद में 363 फीट उंची मीनार बनाने आैर 363 खेजडी के पेड़ लगाने के प्रोजेक्ट को राज्य कैबिनेट में पारित करवाया है. इस प्रोजेक्ट के लिए अबोहर तहसील के सीतो गुनो गांव के पास 5 एकड जमीन भी चिन्हित की गर्इ है.

गांव में 363 फीट उंची मीनार बनाने के अलावा 363 खेजड़ी वृक्ष भी लगाए जाएंगे. साथ ही जोधपुर के खेजडली में पेड़ों के लिए दिए गए बलिदान की जानकारी देने वाली साहित्य की लाइब्रेरी भी स्थापित की जाएगी. इस नेचर पार्क कम स्मारक का नाम खेजड़ी वृक्ष के लिए बलिदान देने वाली प्रथम महिला अमृता देवी के नाम पर रखा जाएगा.

वन विभाग टीम ने देखी जगह, 25 करोड मंजूर

पंजाब कैबिनेट की मंजूरी के बाद स्थानीय विधायक गुरतेज सिंह घुडियाना आैर वन विभाग की टीम ने स्मारक के लिए चिन्हित जगह का दौरा किया. इस 5 एकड़ जमीन पर नेचर पार्क आैर स्मारक का निर्माण किया जाएगा. सरकार ने इसके लिए 25 करोड़ रूपए की मंजूरी दे दी है. घुडियाना ने बताया कि अब जल्द ही यहां पर मीनार निर्माण आैर नेचर पार्क बनाने का काम शुरू किया जाएगा.

क्या है खेजडली बलिदान की कहानी

खेजड़ी वृक्ष के लिए किसी मानवीय प्राणों का बलिदान देने की घटना राजस्थान के मारवाड़ अंचल (जोधपुर ) में वर्ष 1730 में घटी थी. जोधपुर के तत्कालीन शासक महाराजा अभय सिंह को अपने महल निर्माण के लिए लकड़ी की जरूरत थी. 

उन्होंने अपने सैनिकों को लकड़ी लाने के लिए जोधपुर से करीब 26 किलोमीटर दूर दक्षिण पूर्व में स्थित खेजडली गांव भेजा. जैसे ही राजा के सैनिक खेजडली गांव में खेजड़ी वृक्ष को काटने लगे तो वहां रहने वाले विश्नोर्इ समुदाय के लोगों ने इसका विरोध किया. लेकिन राजा की सेना पेड काटने पर आमादा थी, इसे देखकर अमृता देवी विश्नोर्इ खेजड़ी के पेड काे पकड़कर उससे चिपक गर्इ.

अमृता देवी के साहस से गुस्साए राजा के सैनिकों ने एक-एक कर 363 लोगों के सिर काट दिए

अमृता देवी ने सैनिकों से कहा कि पेेड़ को काटने से पहले मुझे काटना होगा. तब राजा की सेना ने कुल्हाड़ी से अमृता देवी का सिर काट दिया. इसके बाद वहां मौजूद सभी लोग खेजड़ी से चिपककर खडे हो गए, इससे गुस्साए राजा के सैनिकों ने एक-एक कर 363 लोगों के सिर काट दिए. 

लेकिन पर्यावरण प्रेमी लोग पीछे नहीं हटे. इस नरसंहार से सैनिक घबरा गए आैर उन्होंने सेनापति का आदेश मानने से इनकार कर दिया. जब महाराजा अभय सिंह को घटना का पता चला तो उन्हाेंने विश्नोर्इ समुदाय के लोगों से माफी मांगी.

सीतोगुनी गांव के सरपंच अक्षय बिश्नोई ने बताया, 'अबोहर क्षेत्र के लोगों ने पंजाब के मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपकर खेजडली के बलिदान की याद में स्मारक बनाने की मांग की थी. जिसे स्वीकार करते हुए पंजाब सरकार ने नेचर पार्क कम स्मारक बनाने को मंजूरी दी है.'

इस घटना को पेडों के लिए मानवीय बलिदान की पहली आैर एेतिहासिक घटना माना जाता है. इस बलिदान की याद में खेजडली गांव में स्मारक बना हुआ है. वहीं, अमृता देवी के नाम से जयपुर के झालाना इलाके में उद्यान बना हुआ है. इसके अलावा राजस्थान सरकार ने पर्यावरण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को प्रति वर्ष दिए जाने वाले पुरस्कार का नामकरण भी शहीद अमृता देवी के नाम पर किया है.

ये हैं देश की टाॅप 5 उंची मीनार

  1. फतेहबुर्ज- पंजाब के मोहाली स्थित फतेहबुर्ज (328 फीट) मीनार को देश की सबसे उंची मीनार माना जाता है.
  2. कुतुब मीनार- राजधानी दिल्ली स्थित विश्व प्रसिद्घ कुतुब मीनार (237फीट) मीनार देश की दूसरी सबसे उंची मीनार है.
  3. चांद मीनार- दौलताबाद स्थित चांद मीनार (210 फीट) देश की तीसरी सबसे उंची मीनार है.
  4. शहीद मीनार- कोलकाता स्थित शहीद मीनार (157फीट) देश की चौथी सबसे उंची मीनार है.
  5. र्इश्वरी मीनार- जयपुर स्थित र्इश्वरी मीनार यानी र्इसरलाट (140 फीट) को पांचवी सबसे उंची मीनार माना जाता है.

जानकारी के अनुसार मोरक्काे की हसन द्वितीय मस्जिद में बनी मीनार दुनिया की सबसे उंची मीनार है. यह 689 फीट यानी 210 मीटर उंची मीनार है.

First published: 5 June 2016, 13:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी