Home » एन्वायरमेंट » Solar Eclipse 2020: Know the solar eclipse day time and sutak kaal
 

Solar Eclipse 2020: इस दिन लगेगा सूर्य ग्रहण, जानिए सूतक काल और ग्रहण का समय

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 April 2020, 11:12 IST

Solar Eclipse 2020: इस साल का पहला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) 21 जून (21st June) को लगने जा रहा है. इस साल ये सूर्य ग्रहण वलयकार होगा और ये ग्रहण भारत (India) में भी दिखाई देगा. हमारे देश में धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, सूर्य ग्रहण से पहले सूतक काल लगता है. जिसे अशुभ माना जाता है. इसलिए सूर्य ग्रहण या चंद्र ग्रहण से पहले लगने वाले सूतक काल के बारे में हर कोई जानना चाहता है. इस दौरान लोग किसी शुभ कार्य का शुभारंभ नहीं करते. ऐसा करना भी अशुभ माना जाता है. बता दें कि 21 जून को लगने वाला सूर्य ग्रहण इस साल का तीसरा ग्रहण और पहला सूर्य ग्रहण होगा. इससे पहले 10-11 जनवरी की रात को चंद्र ग्रहण लगा था. उसके बाद 5-6 जून की रात को भी चंद्र ग्रहण होने वाला है और उसके बाद जून के महीने में ही सूर्य ग्रहण लगेगा.

भारत में किस वक्त दिखाई देगा सूर्य ग्रहण


इस का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून को होगा. जो सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर शुरु होगा और दोपहर 3 बजकर 3 मिनट तक रहेगा. इस साल के पहले सूर्य ग्रहण को भारत के विभिन्न भागों में देखा जा सकता है. इस सूर्य ग्रहण को भारत के अलावा दक्षिण-पूर्व यूरोप, हिन्द महासागर, प्रशांत महासागर, अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका एवं दक्षिण अमेरिका के कुछ भागों में देखा जा सकेगा.

Weather: इस साल सामान्य रहेगा मानसून, IMD ने जारी की आगमन की तारीखें

जानिए कब लगेगा सूतक काल

धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, ग्रहण के दौरान शुभ कार्य नहीं किए जाते हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उस समय ग्रहण का सूतक काल प्रभावी होता है जो एक प्रकार से अशुभ समय होता है. यह ग्रहण से 12 घंटे पूर्व लग जाता है और ग्रहण समाप्त के साथ ही समाप्त होता है. यानी 21 जून के सूर्य ग्रहण के दौरान 20 जून की रात को ही सूतर काल शुरु हो जाएगा. जो 21 जून तीन बजे तक रहेगा. इस दौरान कोई शुभ कार्य न करें. ज्योतिषीय गणना के अनुसार, साल का पहला सूर्य ग्रहण 21 जून अर्थात आषाढ़ मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि के दिन मिथुन राशि और मृगशिरा नक्षत्र में लगेगा. मिथुन राशि पर सूर्य ग्रहण का सबसे ज्यादा प्रभाव देखने को मिलेगा.

इन राज्यों में अगले चार दिन तक भारी बारिश और तूफान की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

जानिए कैसे लगता है सूर्य ग्रहण?

सूर्य ग्रहण एक खगोलीय घटना है जिसे धार्मिक मान्यताओं से जोड़कर भी देखा जाता है. आसान भाषा में अगर कहें तो इस घटना के तहत जब चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है तो सूर्य की रोशनी पृथ्वी तक नहीं पड़ती. इस घटना को ही सूर्य ग्रहण कहा जाता है.

कोरोना वायरस की महामारी के बीच दुनिया पर मंडरा रहा एक और खतरा, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

Coronavirus: लॉकडाउन का कुदरत पर पड़ा बड़ा प्रभाव, कोलकाता में 30 साल बाद लौटीं गंगा डॉल्फिन

First published: 25 April 2020, 11:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी