Home » एन्वायरमेंट » The lion lost its strength in more man last century says report
 

शेरों की ताकत में एक शताब्दी से लगातार हो रही है कमी, जानिए क्या है पूरी वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2019, 13:12 IST

दुनियाभर में शेरों की संख्या में लगातार कमी आती जा रही है. इस बात को हम सब जानते हैं, लेकिन शेरों की ताकत में कमी आने के बारे में शायद ही किसी को पता चला हो. लेकिन एक शोध में इस बात का पता चला है कि पिछली एक शताब्दी में शेरों की ताकत में भी कमी आई है और वह अपने पूर्वजों की तुलना में काफी कमजोर हो गए हैंइस अध्ययन के मुताबिक, वर्तमान में शेरों की प्रजाति पिछले 100 सालों में अपने पूर्वजों की तुलना में शारीरिक रूप से काफी कमजोर हो गई है.

जूलॉजिकल सोसाइटी ऑफ लंदन में की गई एक रिसर्च में शोधकर्ताओं ने पाया कि पिछले 100 सालों में शेरों के शिकार की वजह से उनमें शारीरिक और जेनेटिक रूप से कमजोरी आ गई है. शोधकर्ताओं के मुताबिक, अफ्रीका में शेरों के बेहिसाब शिकार की वजह से उनमें अपने पूर्वजों की तुलना में काफी दुर्बलता आ गई है.

शेरों की शारीरिक और जेनेटिक क्षमता में आई कमी के बारे में ए सेंचुरी ऑफ लॉस नामक स्टडी में पता चला है. इसके साथ ही इस स्टडी में शेरों की संख्या में आई कमी के बारे में भी बताया गया है. बता दें कि शोधकर्ताओं की एक टीम ने अफ्रीका के क्वांगो जम्बेजी इलाके से आधुनिक और पुराने शेरों के डीएनए के सैंपल जुटाए. जिनका गहन अध्ययन किया गया.

रिसर्च के प्रमुख साइमन दुर्ज ने बताया कि, क्वांगो जम्बेजी इलाके में मौजूद शेरों के डीएनए सैंपल के अध्ययन के बाद पता चला है कि पिछले 100 सालों में उनकी जेनेटिक विविधता पर काफी असर पड़ा है जिसकी वजह से वह कमजोर हो गए हैं. बता दें कि शोध में 1879 से 1931 के बीच मारे गए शेरों के डीएनए का अध्ययन कियाइस शोध में इस बात का पता चला कि 19वीं शताब्दी की शुरुआत में जब यूरोप के लोग अफ्रीका में आकर बसने लगे, तब उन्होंने बड़ी संख्या में शेरों के शिकार किया.

कभी देखी है पेड़ पर उगने वाली चिड़िया, तस्वीरें देखकर रह जाएंगे हैरान

First published: 2 April 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी