Home » एन्वायरमेंट » Venus will appear more bright tonight in the sky and it will meteor rain
 

आज रात आसमान में दिखेगा अद्भुत नजारा, उल्काओं की बारिश के साथ अधिक चमकीला दिखेगा शुक्र ग्रह

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 April 2020, 14:12 IST

Venus will appear more bright tonight: अगर आप अंतरिक्ष (Space), चांद-सितारे (Moon and Stars) और खगोलीय घटनाओं (Astronomical) को देखना पसंद करते हैं, या उनके बारे में जानना चाहते हैं तो आज रात आपको आसमान (Sky) में शानदार नजारा देखने को मिलेगा. इस दौरान आप आसमान में शुक्र ग्रह (Venus Planet) को पहले से अधिक चमकाली देख पाएंगे, साथ ही उल्कापिंडों की बारिश का भी आनंद ले पाएंगे. बता दें कि शुक्र ग्रह सौरमंडल का सबसे चमकीला ग्रह है और आज रात यानी मंगलवार रात को ये पहले से अधिक चमकदार दिखाई देगा.

दरअसल, 28 अप्रैल को शुक्र ग्रह पृथ्वी के सापेक्ष सूर्य से सबसे दूर होगा. इसी वजह से शुक्र ग्रह सबसे ज्यादा चमकदार दिखाई देना वाला है. इस दिन शुक्र ग्रह की चमक (-4.73) तक पहुंच जाएगी. जिन लोगों की आंखे पूर्ण रूप से स्वस्थ है, वो नंगी आंखों यानी बिना चश्मे या दूूरबीन के वो शुक्र ग्रह की कलाओं को देख सकेंगे. साधारण दूरदर्शी की मदद से शुक्र ग्रह की कला को और भी अच्छे से देखा जा सकता है.


इस ग्रह के रहस्यों के बारे में नहीं जानते होंगे आप, यहां रहता है 42 साल दिन और 42 साल रात

पृथ्वी की ओर 55 हजार किलोमीटर प्रति घंटा की गति से आ रहा ये क्षुद्रग्रह

लखनऊ स्थित इंदिरा गांधी नक्षत्र शाला के वैज्ञानिक अधिकारी सुमित श्रीवास्तव का कहना है कि अधिक चमकदार होने की वजह से यह खगोलीय घटना सूर्यास्त से पहले ही दिखाई देने लगेगी. इसको पश्चिम दिशा में देखा जा सकेगा. उन्होंने बताया कि लखनऊ में इसे रात 9.42 तक देखा जा सकेगा. बता दें कि इसके बाद शुक्र ग्रह इसी साल 10 जुलाई को सबसे ज्यादा चमकदार दिखाई देगा. सुमित के मुताबिक, इस दिन शुक्र ग्रह अपने सामान्य आकार से 40 प्रतिशत बड़ा नजर आएगा. यह बृहस्पति ग्रह से नौ गुना चमकीला और तारो में सबसे ज्यादा चमकदार तारे सीरियस से भी 20 गुना ज्यादा चमकदार नजर आएगा.

कोरोना वायरस की महामारी के बीच दुनिया पर मंडरा रहा एक और खतरा, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

जानिए क्या है शुक्र ग्रह के अधिक चमकदार दिखाई देने का कारण

जब सूर्य, शुक्र व पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं तो ये सभी ग्रह युति या कंजंक्शन बनाते हैं. ये युति दो प्रकार की होती है, इन्फेरियोर और सुपीरियर, लेकिन इसके अलावा शुक्र सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते समय दो बार पृथ्वी के सापेक्ष सबसे दूर दिखाई देता है विश समय उसका कोणीय व्यास बढ़ा हुआ दिखाई देता है. जिससे शुक्र ग्रह सामान्य से बड़ा व ज्यादा चमकीला दिखाई देता है.

Solar Eclipse 2020: इस दिन लगेगा सूर्य ग्रहण, जानिए सूतक काल और ग्रहण का समय

मंगलवार की रात एक छोटी उल्का वर्षा स्कॉर्पिडस भी देखी जा सकेगी. जिसमें लगभग 5 से 10 उल्काएं या टूटते तारे दिखाई पड़ेंगे. ये उल्का बर्षा रात 9 बजे दक्षिण पूर्व दिशा से शुरू होगी. किन्तु क्षितिज पर होने से ज्यादा खूबसूरत दिखाई नहीं देगी. रात करीब 2.17 पर यह उल्का वर्षा दक्षिण दिशा की तरफ हमारे सर के ठीक ऊपर होगी. यानि रात 12 बजे से सुबह 4 बजे तक इस उल्का वर्षा को देखा जा सकेगा. इस उल्का वर्षा में अधिकतम 5 से 10 टूटते तारे ही दिखाई देंगे.

यूपी में बदल रहा है मौसम का मिजाज, अगले चार दिनों तक बारिश और आंधी की संभावना

First published: 28 April 2020, 14:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी