Home » एन्वायरमेंट » Weather Alert: Rain lashes several parts of the Delhi, heavy rain expected in many states red alert in north east
 

मौसम का बदला मिजाज, झमाझम बारिश से दिल्ली वालों को मिली गर्मी से राहत, इन राज्यों में भी आज होगी भारी बारिश

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 July 2020, 7:28 IST

Weather Update: दिल्ली (Delhi) में रविवार सुबह (Sunday Morning) से ही बारिश (Rain) का सिलसिला शुरु हो गया. जिससे दिल्ली वालों को उमस भरी गर्मी (Humid) से राहत मिल गई. रविवार सुबह करीब पांच बजे से ही राजधानी दिल्ली में झमाझम बारिश (Rainfall) हो रही है. जिससे तापमान (temperature) में गिरावट दर्ज की गई. वहीं पिछले कई दिनों से उमस भरी गर्मी से जूझ रहे दिल्ली वालों को राहत मिली है. बता दें कि जून में एक दो दिन बारिश होने के बाद जुलाई (July) के महीने में दिल्ली में एक या फिर दो दिन ही हल्की-फुल्की बारिश (Light Rain) हुई है. जिससे तापमान लगातार 38-40 डिग्री सेल्सियस बना हुआ था. हालांकि आसमान में बादल रोजाना नजर आते थे लेकिन बारिश नहीं हुई. आज सुबह से हो रही बारिश के चलते राजधानी दिल्ली का पारा गिर गया है और लोगों को गर्मी से राहत मिली है.

दिल्ली के अलावा आज पंजाब और हरियाणा (Punjab and Haryana) भी भारी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग का कहना है कि मानसून के सामान्य स्थिति में आने से इन दोनों राज्यों में रविवार को भारी बारिश दर्ज की जा सकती है. वहीं 'स्काईमेट वेदर' के मुताबिक, जुलाई की शुरुआत से, उत्तरी मैदानी इलाकों में केवल हल्की-फुल्की बारिश हुई है क्योंकि मानसून लगातार अपना रास्ता बदल रहा था. वह कभी हिमालय की ओर जा रहा था और कभी उससे दूर. मौसम एजेंसी ने बताया कि मानसून उत्तर की ओर बढ़ेगा और अगले 3-4 दिनों तक स्थिर रहेगा. 19 से 21 जुलाई के बीच दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में अधिक वर्षा होने की उम्मीद है.


भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने इस दौरान पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश का अनुमान लगाया है. जिसके चलते इन राज्यों में 'रेड अलर्ट' जारी किया है. आईएमडी ने कहा कि हालांकि उम्मीद के मुताबिक उत्तर भारत में उमस भरे मौसम से लोगों को कुछ राहत मिलने की संभावना है, लेकिन भारी बारिश के कारण असम और अन्य पूर्वोत्तर राज्यों में बाढ़ से स्थिति और खराब होगी इसके साथ ही इन राज्यों में भूस्खलन की घटनाएं हो सकती हैं.

अब भारत की ओर बढ़ रहा अफ्रीकी टिड्डियों का दल, गुजरात से कर सकता है प्रवेश

बता दें कि पिछले कई दिनों से हो रही तेज बारिश के चलते असम में बाढ़ जनित घटनाओं में तीन और लोगों की मौत हो गई, जिससे इस प्राकृतिक आपदा के कारण मरने वाले लोगों की संख्या 105 हो गई है. इनमें से 79 लोग बाढ़ में और 26 भूस्खलन के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं.

राजस्थान के सियासी संकट पर आयी वसुंधरा राजे की पहली प्रतिक्रिया, कांग्रेस पर साधा निशाना

UP: 'कांग्रेस नेता ने कहा विधानभवन के आगे लगा लो आग', मां बेटी से तेल डालकर की आत्मदाह की कोशिश

उधर असम के 33 जिलों में से 26 जिलों में 27 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं. यहां बाढ़ के कारण तमाम मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं और फसलें तबाह हो गईं हैं. साथ ही कई स्थानों पर सड़कें और पुल टूट गए हैं. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने बाढ़ संबंधी अपनी दैनिक रिपोर्ट में बताया कि दो व्यक्तियों की मौत बारपेटा में और एक व्यक्ति की मौत दक्षिण सालमारा जिले में हुई है. इसमें बताया गया कि इस बार बरसात के मौसम में काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 90 पशुओं की मौत हुई है. मुख्य सचिव कुमार संजय कृष्ण ने बताया कि बाढ़ प्रबंधन को लेकर कोई समस्या नहीं है क्योंकि बाढ़ एवं कोविड-19 के लिए सरकारी कर्मचारियों के अलग-अलग दलों को तैनात किया गया है.

Weather Update: अगले कुछ घंटों में इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना : मौसम विभाग

दिल्ली-यूपी समेत इन राज्यों में आज हो सकती है भारी बारिश, उत्तराखंड़ के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी

वहीं उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में गरज के साथ कल हल्की से मध्यम बारिश बारिश हुई, जबकि राज्य के पश्चिमी हिस्से में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हुई. मौसम विभाग के मुताबिक, राज्य के कुछ स्थानों पर बिजली गिरने के साथ-साथ आंधी-तूफान भी आई. मौसम विभाग ने 19 से 21 जुलाई तक राज्य के अधिकतर स्थानों पर बारिश और आंधी-तूफान आने का अनुमान जताया है. पंजाब और हरियाणा में तापमान सामान्य स्तरों के आसपास रहा. राजस्थान के अनेक इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश दर्ज की गई. मौसम विभाग के अनुसार बारिश का दौर अभी जारी रहेगा. हिमाचल प्रदेश में मौसम विभाग ने 19 और 20 जुलाई को भारी बारिश की आशंका जताते हुए आरेंज अलर्ट जारी कर दिया है.

Weather Forecast: UP के इन जिलों में आज हो सकती है भारी बारिश, अगले दो दिन तक जारी रहेगा सिलसिला

First published: 19 July 2020, 7:28 IST
 
अगली कहानी