Home » एन्वायरमेंट » Weather update: devastation of rain in Pakistan, 39 people died, India breaks 44 years record
 

Weather Update: पाकिस्तान में बारिश की तबाही, 39 लोगों की मौत, भारत में टूटा 44 साल का रिकॉर्ड

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 August 2020, 15:37 IST

Rain In Pakistan : मूसलाधार बारिश और बाढ़ की वजह से पाकिस्तान में 39 लोगों की जान चली गई है. कराची की सड़कों पर भारी बारिश के कारण पानी भर गया और सड़क के रास्ते डूब गए. देश में कई व्यापारिक गतिविधियां प्रभावित हुईं और सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया. आपदा प्रबंधन के एक अधिकारी ने कहा कि उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा (KPK) जिले में मूसलाधार बारिश के कारण आई बाढ़ के कारण एक महिला और दो बच्चों सहित कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य घायल हो गए. प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण Provincial Disaster Management Authority (पीडीएमए) के एक अधिकारी ने कहा कि गुरुवार की रात बाढ़ के कारण ऊपरी कोहिस्तान जिले में 8, स्वात में छह और प्रांत के शांगला जिले में आठ लोगों की मौत हो गई.

कराची में मंगलवार को हुई भारी बारिश ने कम से कम 23 लोगों की जान ले ली. डॉन की एक रिपोर्ट के अनुसार, सिंध सरकार ने शुक्रवार को सार्वजनिक अवकाश घोषित किया था. प्रधान मंत्री इमरान खान ने कराची की स्थिति पर चिंता व्यक्त की. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पुष्टि की कि गुरुवार को कराची में बारिश से संबंधित घटनाओं में कम से कम 12 लोग मारे गए. पुलिस महानिरीक्षक आमिर हमीद ने कहा "कल से बाढ़ के कारण शहर के विभिन्न हिस्सों में डूबने के कम से कम 11 मामले सामने आए हैं." मौसम विभाग ने गुरुवार को कहा कि अगस्त महीने में हुई बारिश ने 89 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया है.


 

भारत में टूटा 44 साल का रिकॉर्ड

पीटीआई के अनुसार भारत के मौसम विभाग ने कहा है कि देश में अगस्त में 44 साल में सबसे ज्यादा बारिश हुई है. 28 अगस्त तक मौसम विभाग ने 25% अधिशेष वर्षा दर्ज की थी. इस महीने की बारिश ने अगस्त 1983 को पार कर लिया, जब पूरे महीने में 23.8 फीसदी अधिक बारिश दर्ज की गई थी. अगस्त 1976 में देश में महीने के लिए 28.4 फीसदी अधिक वर्षा दर्ज की गई.

मौसम विभाग ने कहा कि मानसून में बिहार, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु, गुजरात, गोवा में अधिक बारिश दर्ज की गई है. असम, बिहार और ओडिशा जैसे कुछ राज्यों में बाढ़ आ गई. दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर, मणिपुर, मिजोरम और नागालैंड में कम वर्षा दर्ज की गई है. कुल मिलाकर देश में इस मानसून में सामान्य से 9 फीसदी अधिक वर्षा हुई है. जून में 17 फीसदी अधिक वर्षा दर्ज की गई जबकि जुलाई में बारिश सामान्य से 10 फीसदी कम थी.

Weather Update : मौसम विभाग ने इन राज्यों में दी भारी बारिश की चेतावनी, दिल्ली में हुआ जलभराव

First published: 29 August 2020, 15:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी