Home » एन्वायरमेंट » Weather update today western disturbance become active in Himachal Pradesh
 

आज से बदलेगा मौसम का मिजाज, पश्चिमी विक्षोभ हुआ सक्रिय, मैदानी इलाकों में बढ़ेगी सर्दी

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 November 2019, 15:54 IST

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम का मिजाज तेजी से बदल रहा है. जिसके चलते हिमाचल प्रदेश समेत पहाड़ी राज्यों में भारी बर्फबारी होने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक, ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जहां बर्फबारी होने की संभावना है वहीं मैदानी क्षेत्रों में भी बारिश हो सकती है. जिसके चलते मैदानी इलाकों में ठंड बढ़ सकती है.

मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर पाकिस्तान से लेकर जम्मू कश्मीर में सक्रिय होने से हिमाचल प्रदेश में भी तेज बारिश की संभावना बन रही है. बता दें कि इन दिनों शिमला में रात के तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जा रही है. वहीं बीते चौबीस घंटों में शिमला के न्यूनतम तापमान 5.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया, जबकि कल्पा का तापमान माइनस शूल्य डिग्री तक पहुंच गया है.

 

वहीं राजधानी शिमला का अधिकतम तापमान 15.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया है. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के एक कुंड के रूप में फैलने के कारण, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और हरियाणा में मंगलवार और बुधवार यानी 26 नवंबर और 27 नवंबर को चमक और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है. मौसम विभाग के पूर्वानुमान लगाया है कि दक्षिण प्रायद्वीप पर सक्रिय रूप से लहर की स्थिति के प्रभाव के तहत, अगले दो दिनों में तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में भारी गिरावट के साथ भारी बारिश हो सकती है.

वहीं राजधानी दिल्ली में अभी भी प्रदूषण खत्म नहीं हुआ है. हालांकि ऐसे माना जा रहा है कि अगर बारिश होती तो दिल्ली एनसीआर सहित आसपास के इलाकों में भी हवा की गुणवत्ता में बदलाव आएगा. हालांकि मंगलवार की सुबह दिल्ली के आसपास के इलाकों में हल्की बूंदा-बांदी हुई थी. जिसके बाद ऐसा माना जा रहा कि आने वाले एक दो दिन में बारिश हो सकती है और हवा की गुणवत्ता में सुधार भी होगा.

ये भी पढ़ें-

ग्रीस में आंधी और बारिश ने बरपाया कहर, तीन लोगों की मौत

बदल सकता है मौसम का मिजाज, दिल्ली एनसीआर समेत आसपास के इलाकों में बारिश की संभावना

पृथ्वी पर मिली अनोखी जगह, जहां जीवन की नहीं कोई संभावना

 

First published: 26 November 2019, 15:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी