Home » यूरो कप 2016 » UEFA Euro 2016: Gareth Bale breaks 58-year-old Welsh record
 

यूरो 2016: गैरेथ बेल ने वेल्स टीम का 58 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 June 2016, 16:12 IST
(यूएफा)

वेल्स के स्टार खिलाड़ी गैरेथ बेल यूरो 2016 के ग्रुप स्टेज में तीन गोल दाग कर अपने देश की तरफ से किसी बड़े टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. यूरो 2016 के तीन मैचों में बेल अब तक वेल्स के लिए 3 गोल कर चुके हैं.

20 जून को स्टेडियम डी टुलूस में खले गए इस मैच में वेल्स ने रूस की टीम को 3-0 से रौंदते हुए ग्रुप-बी में शीर्ष स्थान हासिल किया. इस जीत से वेल्स की टीम ने पहली बार यूरो कप के नॉकआउट स्टेज में अपनी जगह पक्की की. वेल्स ने पहली बार यूरो 2016 के लिए क्वालीफाई किया है. वहीं इस हार के साथ रुस की टीम प्रतियोगिता से बाहर हो गई.

मैच का पहला गोल आरोन रामसे ने 11वें मिनट में किया. इसके कुछ ही देर बाद नील टेलर ने वेल्स की ओर से दूसरा गोल दागा. पहला हॉफ खत्म होने तक वेल्स की टीम रूस के खिलाफ 2-0 की बढ़त बना चुकी थी. मैच का आखिरी और तीसरा गोल गैरेथ बेल ने 67वें मिनट में किया.

यूरो टूर्नामेंट में तीन गोल दागने के साथ ही बेल वेल्स के लिए किसी भी बड़े टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं. उनसे पहले यह रिकार्ड इवोर अलचर्च के नाम था जिन्होंने 1958 में स्वीडन में खेले गए फीफा विश्व कप में दो गोल किए थे.गोल डॉट कॉम के अनुसार, "बेल ने मेजर फाइनल में अपने देश की तरफ से सबसे ज्यादा गोल दागने का 58 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया."

बेल ने इतिहास रचने के साथ-साथ अपने देश की ओर से ग्रुप स्टेज के हर मैच में गोल दागने का रिकॉर्ड भी बनाया. पिछली दो यूरोपियन चैंपियनशिप में ऐसा करने वाले बेल इकलौते खिलाड़ी हैं.

गोल डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, इससे पहले चेक गणराज्य के मिलान बारोस और नीदरलैंड्स के रुड वैन निस्तेलरु ने यूरो 2004 में अपने पहले तीन मैचों में गोल दागने का कारनामा किया था.

गौरतलब है कि फुटबॉल के इतिहास में वेल्स का ये दूसरा बड़ा अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट है, जिसमें टीम ने क्वालीफाई किया है. इससे पहले टीम ने 1958 के फीफा विश्व कप के लिए क्वालीफाई किया था और क्वार्टर फाइनल तक पहुंची थी. 

First published: 21 June 2016, 16:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी