Home » यूरो कप 2016 » UEFA Euro 2016: UEFA Euro 2016: Italy Vs Germany, Heavyweights Collide tonight
 

यूएफा यूरो 2016: जर्मनी-इटली के बीच आज कांटे के मुकाबले की उम्मीद

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 July 2016, 15:15 IST
(यूट्यूब)

विश्व चैंपियन जर्मनी की टीम यूरो कप फुटबॉल टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में आज रात 12:30 बजे चिर प्रतिद्वंद्वी इटली की टीम से भिड़ेगी. दोनों ही टीमों के फैन्स को आज रात रोमांचक मुकाबले की उम्मीद है.

इटली की टीम अच्छे फॉर्म में है. उसने स्पेन जैसी टीम को 2-0 से हराकर क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय किया है. वहीं जर्मनी की टीम को कम आंकना भूल होगी.

इतिहास बदलने के इरादे से उतरेगी जर्मन टीम

जर्मनी इस टूर्नामेंट में अभी तक अजेय रही है और क्वार्टर फाइनल तक के सफर में विपक्षी टीम से कोई गोल नहीं खाया है. लेकिन इटली को इस बात का मनोवैज्ञानिक लाभ जरूर मिलेगा कि उसे जर्मनी अभी तक किसी भी बड़े टूर्नामेंट में हरा नहीं पाया है.

मैच से पहले प्रैक्टिस करती जर्मन टीम (यूएफा)

जर्मनी ने हर टूर्नामेंट के नाकआउट राउंड में इटली से शिकस्त झेली है जिसमें एक विश्वकप फाइनल, दो सेमीफाइनल और यूरो कप 2012 का अंतिम चार का मुकाबला शामिल है. यूरो 2012 में इटली ने जर्मनी को 2-1 से हराया था.

इसी साल मार्च में हुए एक मैच में जर्मनी ने इटली को 4-1 से करारी शिकस्त दी थी. फिलहाल दोनों टीमों के खिलाड़ियों का कहना है कि पिछला रिकॉर्ड भुलाकर हम इस मैच के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं. हालांकि जर्मन टीम को उम्मीद है कि इस बार वह इटली के भ्रम को तोड़ पाएंगे.

जर्मन टीम मैनेजर ओलिवर बियरहॉफ (यूएफा)

टीम मैनेजर ओलिवर बियरहॉफ ने कहा, "हम जानते हैं कि हमसे काफी उम्मीदें है. यह नया गेम है. हो सकता है कि इटली की टीम 2012 की तुलना में इस बार अधिक मजबूत हो, हमें सतर्क रहना होगा."

बियरहॉफ ने कहा 'मुझे लगता है कि बास्टियन अब ठीक हैं. वह टीम चयन के लिए उपलब्ध हैं और कोच उन पर 100 फीसदी भरोसा कर सकते हैं.'

जर्मनी के टोनी क्रूस और थॉमस मूलर (यूएफा)

जर्मन टीम का मानना है कि पिछला जो भी रिकॉर्ड रहा हो, उससे उन्हें फर्क नहीं पड़ता है क्योंकि यह एक नया मैच होगा और दोनों टीमों को नए सिरे से शुरुआत करनी होगी. वहीं दोनों टीमों के खिलाड़ियों का भी मानना है कि यह मैच आखिरी तक खिंचेगा. इसलिए पेनाल्टी शूट की भी प्रैक्टिस खूब की जा रही है.

जर्मनी के मिडफील्डर टोनी क्रूस ने कहा, "पिछला रिकॉर्ड मेरे लिए कोई मायने नहीं रखता कि हम बड़े टूर्नामेंट में इटली को कभी शिकस्त नहीं दे पाए हैं." उन्होंने कहा, "हमने यहां जितनी टीमों का सामना किया, उनमें वे सर्वश्रेष्ठ हैं. मैं मैच को लेकर बेताब हूं."

जर्मन कोच योआखिम लोव पत्रकारों का जवाब देते हुए (यूएफा)

‘एवरेस्ट चढ़ने’ के बराबर

योआखिम लोव की वर्ल्ड चैम्पियन जर्मनी और एंटोनियो कोंटे की इटली ने स्वीकार किया है कि यूरो चैम्पियनशिप फाइनल में यह उनका अब तक का सबसे कड़ा मुकाबला है. कोंटे ने तो यहां तक कहा है कि विश्व चैम्पियन टीम का सामना करना फुटबॉल में ‘एवरेस्ट चढ़ने’ के समान है.

इटली के कोच एंटोनियो कोंटे (यूएफा)

जर्मनी के खिलाफ मैच में इटली अपनी तिकड़ी जार्जियो चिलिनी, जुवेंटस में उनके टीम साथी आंद्रिया बारजागिल और लियोनार्डो बोनुसी पर एक बार फिर निर्भर होगी, जिन्होंने अब तक टूर्नामेंट में कमाल का खेल दिखाया है. 

डिफेंडर मातिया डी सिगिलियो ने कहा, "हमारे पास जुवेंटस की तिकड़ी है और ये तीनों हमें पिछले पांच वर्षों से जीत दिला रहे हैं." वैसे इतालवी टीम को अपने कुछ खिलाड़ियों की अनुपस्थिति से घबराहट नहीं है.

मातिया ने कहा, "कोंटे का बस चले तो वह हमारे साथ पिच पर आकर खेलें. उन्होंने हमें लड़ना सिखाया है. हमारे पास सुपरस्टार नहीं हैं लेकिन हम हर गेंद के लिए  लड़ेंगे और यही हमारी ताकत है."

स्पेन को हराने के बाद जश्न मनाती इटली की टीम (यूएफा)

इटली के कई दिग्गज नहीं खेल पाएंगे मैच

हालांकि इटली के मिडफील्डर डेनिएल डी रोसी आज का मैच नहीं खेल पाएंगे. डी रोसी जांघ की गंभीर चोट से जूझ रहे हैं, जो उन्हें स्पेन के खिलाफ मैच में लगी थी. इटली ने यह मैच स्पेन से 2-0 से जीता था.

इटली के मिडफील्डर डेनिएल डी रोसी (यूएफा)

इटली के टीम डॉक्टर एनरिको कास्टेलाकी ने कहा कि रोमा का यह मिडफील्डर बोरडियोक्स में जर्मनी के खिलाफ होने वाले मुकाबले में नहीं खेल पाएगा. वहीं थियागो मोटा निलंबन के कारण नहीं खेल सकेंगे. 

First published: 2 July 2016, 15:15 IST
 
अगली कहानी