Home » हरियाणा » Dera Sachcha Baba Ram Rahim final verdict on Monday, Haryana Govt & Police not in the mood to repeat last episode, Sedition charges against
 

डेरा प्रमुख और हरियाणा सरकार दोनों की ख्वाहिश कि सोमवार को न मिले 'सजा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 August 2017, 19:56 IST

हरियाणा सरकार के लिए सोमवार यानी 28 अगस्त का दिन एक नई चुनौती लेकर आने वाला है. जहां गुरमीत राम रहीम खुद को सीबीआई की सजा से बचाने के लिए ऊपर वाले से दुआ कर रहे होंगे, हरियाणा सरकार भी चाहती होगी कि शुक्रवार जैसी घटना की पुनरावृत्ति न हो और उन्हें भी सजा न मिले. हालांकि रविवार को हरियाणा पुलिस-सरकार के दावों से लगता है कि वो अब गलती दोहराने के मूड में नहीं है. सोमवार को डेरा सच्चा सौदा प्रमुख बाबा राम रहीम को रोहतक जेल में ही सजा सुनाई जाएगी.

इस मामले में हरियाणा के गृह सचिव राम निवास ने कहा कि सोमवार के लिए गुरमीत राम रहीम को सजा सुनाने के दौरान शुक्रवार जैसी स्थिति न पैदा हो, इसके लिए सुरक्षा बंदोबस्त पूरी तरह चाक-चौबंद कर लिए गए हैं. राम निवास ने कहा, "हम शांति एवं सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए हर कदम उठा रहे हैं. अराजक तत्वों के खिलाफ ढेरों मामले दर्ज किए गए हैं तथा और भी कड़ी धाराओं के तहत और मामले दर्ज किए जा रहे हैं."

उन्होंने कहा, "10 किलोमीटर की परिधि में परिंदा भी पर नहीं मार सकता. मुझे पुलिस के शीर्ष अधिकारियों और स्थानीय प्रशासन ने इस बात का आश्वासन दिया है." शुक्रवार को दुष्कर्म के दोषी करार दिए गए गुरमीत राम रहीम को रोहतक जेल में रखा गया है और सोमवार को सजा सुनाने के लिए रोहतक जेल में ही अदालत लगाई जाएगी, जहां केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश अपराह्न करीब 2.30 बजे सजा सुनाएंगे.

 

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मोहम्मद अकील ने बताया कि पुलिस बल की तैयारी पूरी है और कानून व्यवस्था बिगड़ने के किसी हालात से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं, जैसा कि शुक्रवार को हुआ था.

वहीं, रोहतक रेंज के आईजीपी नवदीप सिंह विर्क ने कहा कि रोहतक में किसी भी प्रकार की भीड़ इकट्ठा नहीं होने दी जाएगी. रोहतक आने वाली सभी बसों-ट्रेनों को रोक दिया गया है या निरस्त कर दिया गया है. रोहतक आने वाले सभी रास्तों पर विशेष चेक प्वाइंट्स बनाए गए हैं और इन पर हरियाणा पुलिस, स्पेशल पैरामिलिट्री फोर्स तैनात हैं.

ज्ञात हो कि अदालत द्वारा शुक्रवार को गुरमीत राम रहीम को दुष्कर्म का दोषी करार दिए जाने के बाद, हरियाणा और पंजाब में व्यापक हिंसा भड़क उठी, जिसमें 38 लोगों की मौत हो गई और पुलिसकर्मियों सहित बड़ी संख्या में लोग घायल हुए थे.

 

राम निवास ने कहा कि शुक्रवार को डेरा अनुयायियों द्वारा सार्वजनिक संपत्तियों को पहुंचाए गए नुकसान की क्षतिपूर्ति डेरा की संपत्ति बेचकर की जाएगी.

वहीं, हरियाणा के पुलिस महानिदेशक बीएस संधू ने कहा कि 103 डेरा को छाना जा चुका है. कुल 52 मामले दर्ज किए गए हैं और 926 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. वहीं, खबरों के आधार पर पंचकूला पुलिस स्टेशन में आदित्य इंसा और धीमान इंसा के खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.

शुक्रवार को हुई हिंसा में कुल 38 लोगों की जानें गई हैं. इनमें पंचकूला में 32 और सिरसा में 6 लोग शामिल हैं. सभी मृतकों की शिनाख्त कर ली गई है और पोस्टमार्टम किया जा चुका है. फिलहाल केवल सिरसा में ही कर्फ्यू लगा हुआ है और कहीं नहीं.

वहीं, बाबा राम रहीम सिंह के साथ हेलीकॉप्टर में हनीप्रीत इंसा की मौजूदगी के बारे में संधू ने कहा कि उन्हें अदालत ने अनुमति दी थी. हनीप्रीत ने बाबा की तबीयत खराब होने का हवाला देते हुए अदालत से उनके साथ जाने को कहा था.

First published: 27 August 2017, 19:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी