Home » हरियाणा » Karnal Hospital fired a doctor after he asked for salary
 

सैलरी मांगने पर डॉक्टर की चली गई नौकरी, अब पत्नी संग चाय बेचने को हो गए मजबूूर

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 May 2020, 13:10 IST

Docter selling tea in Karnal: लॉकडाउन (Lockdown) का असर अब नौकरियों (Jobs) पर भी देखने को मिलने लगा है. लॉकडाउन के चलते कंपनियां या नियोक्ता अपने कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रहे हैं. और उसके बाद कर्मचारियों को कोई और काम करना पड़ रहा है. ऐसा ही एक मामला, हरियाणा के करनाल से सामने आया है. जहां एक डॉक्टर को अस्पताल ने नौकरी से इसलिए निकाल दिया क्योंकि उसने अस्पताल मालिक से अपनी सैलरी मांग ली. नौकरी जाने के बाद डॉक्टर अपनी नवविवाहित पत्नी के साथ चाय बेचने को मजबूर है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब लॉकडाउन की घोषणा की थी तब उन्होंने मालिकों से कहा था कि वो अपने कर्मचारियों को न तो नौकरी से निकालें और ना ही उनकी सैलरी काटें. लेकिन पीएम मोदी की बातों पर तमाम कंपनियां अमल ही नहीं कर रही हैं. डॉक्टर का आऱोप है कि उसने अस्पताल से जब सैलरी के लिए कहा तो उन्‍हें नौकरी से निकाल दिया गया. बता दें कि पीड़ित डॉक्टर गौरव वर्मा एक निजी अस्पताल (Private Hospital) में कार्यरत थे. 


उनका आरोप है कि उनकी दो माह की सैलरी (Salary) बकाया थी. जब उन्होंने सैलरी मांगी तो पहले उनका तबादला कर दिया गया. जब उन्होंने इसका विरोध किया तो उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया. अब अस्पताल की ड्रेस पहनकर वो करनाल के सेक्टर-13 में एक ठकेल पर चाय बनाकर लोगों को बेच रहे हैं. उन्होंने सरकार से संबंधित अस्पताल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

COVID-19: दुनियाभर में अब तक तीन लाख 16 हजार से ज्यादा मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 48 लाख के पार

पीड़ित डॉक्टर का आरोप है कि उन्होंने कंपनी मुख्यालय में इस बारे बातचीत की, लेकिन किसी ने उनकी बात नहीं सुनी. उन्होंने बताया कि उनका ट्रांसफर गाजियाबाद कर दिया गया. विवाद बढ़ गया तो उनको नौकरी से निकाल दिया गया. इससे आहत डॉ. गौरव ने हरियाणा के सीएम विंडो पर भी शिकायत की है, लेकिन न्याय न मिलता देख उन्‍होंने अस्‍पताल के सामने ही ठेले पर चाय बेचना शुरु कर दिया.

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान 'अम्फान' हुआ खतरनाक, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

इस संबंध में सिविल सर्जिन डॉक्टर अश्विनी अहूजा का कहना है कि इस बारे में उनके पास शिकायत आई है. उन्होंने कहा कि इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा. यह जांच का विषय है. जांच पूरी होने के बाद ही इस विषय को स्पष्ट कर सकूंगा. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है.

Coronavirus: रोजाना बढ़ते कोविड-19 मामलों के बीच जानिए क्या है भारत का रिकवरी रेट

Coronavirus: सामने आये अबतक के सबसे ज्यादा सिंगल-डे मामले, जानिए बड़े राज्यों के हाल

First published: 18 May 2020, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी