Home » हरियाणा » Ram Rahim Singh confirms he will appear in court tomorrow for hearing in the rape case against him.
 

कोर्ट में पेश होंगे डेरा सच्चा सौदा प्रमुख, समर्थकों से शांति की अपील

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2017, 13:59 IST

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के खिलाफ दुष्कर्म के एक मामले में शुक्रवार को फैसला आएगा. फैसला आने से पहले ही गुरमात राम रहीम के लाखों फॉलोअर पंचकुला में डेरा जमा चुके हैं. हरियाणा सरकार ने किसी भी तरह की गड़बड़ी से बचने के लिए इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया है. केंद्र सरकार की ओर से भी सुरक्षा को देखते हुए कई कंपनियां भेजी जा चुकी हैं.

फैसला आने से एक दिन पहले गुरमीत राम रहीम ने सोशल मीडिया के जरिए अपने अनुयायियों से शांति व्यवस्था रखने की अपील की. उन्होंने फेसबुक और ट्विटर के जरिए लिखा है कि,

 

'हमने सदा क़ानून का सम्मान किया है, हालांकि हमारी कमर में दर्द है, फिर भी कानून का सम्मान करते हुए हम कोर्ट ज़रूर जाएंगे. हमें भगवान पर दृढ़ यकीन है. सभी शांति बनाए रखें.‬'

हरियाणा सरकार ने लिए बड़े फैसले

हरियाणा सरकार ने अनहोनी से बचने के लिए पंचकूला और चंडीगढ़ में 25 अगस्त तक स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए गए हैं. इस मामले की गंभीरता देखते हुए गृह मंत्रालय ने अर्धसैनिक बलों की 167 कंपनियां भेजी हैं. इसमें कुल 97 कंपनियां CRPF की हैं, जिसमें 4 महिला कंपनी हैं, जो पंजाब और हरियाणा में तैनात की गई हैं. इसके साथ ही 16 RAF, 37 SSB, 12 ITBP, 21 BSF की कंपनियां पंजाब और हरियाणा में तैनात कर दी गई हैं. . राज्य से लगी सीमाओं को हर तरफ सील करके ड्रोन कैमरों से नजर रखी जा रही है. कई जिलों में धारा 144 लागू है.

राम रहीम पर रेप का आरोप

गौरतलब है कि हरियाणा के पंचकुला की सीबीआई की विशेष अदालत दुष्कर्म के मामले में 25 अगस्त को फैसला देगी जिसमें डेरा सच्चा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह आरोपी हैं. मामले की सुनवाई 2007 से चल रही है.गुरमीत राम रहीम के पंजाब, हरियाणा और दूसरे राज्यों में लाखों अनुयायी हैं.

गुरमीत राम रहीम पर उनकी पूर्व महिला अनुयायी ने डेरा शिविर में कई बार दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगाया है. यह डेरा शिविर हरियाणा के सिरसा के बाहरी इलाके में है. यह चंडीगढ़ से 260 किलोमीटर दूर है.

First published: 24 August 2017, 14:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी