Home » हेल्थ केयर टिप्स » After Menstrual Cup there will not be needs of Sanitary Pad, It is very cheap
 

Menstrual Cup के बाद नहीं होगी सेनेटरी पैड की जरूरत, चलता है सालों-साल

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 November 2018, 19:10 IST

सरकारों और एडवरटाइजिंग फर्मों द्वारा चलाये गए अभियानों के बावजूद आज भी भारत में सिर्फ 11.4% महिलाएं ही सुरक्षित पैडस का इस्तेमाल करती हैं. इसकी पहली वजह है गरीबी, दूसरी है अशिक्षा और तीसरी वजह periods के प्रति शर्म की भावना होना. चौथी वजह ग्रामीण क्षेत्रों में इसकी आसान उपलब्धता न होना. इसलिए हम यहां बाजार में आई नई चीज यानि कि Menstrual Cup के बारे में बता रहे हैं.

Menstrual Cup इस्तेमाल में ज्यादा सुरक्षित होने के साथ-साथ पैड्स के मुकाबले बेहद सस्ता है. Menstrual Cup ऑफिस जाने वाली या कहिए कामकाजी महिलाओं को रख-रखाव जैसी समस्याओं से भी निजात दिलवाता है. एक तो यह फिर से इस्तेमाल हो जाता है और दूसरे खुद के लिए पर्स में अतिरिक्त जगह भी नहीं मांगता. ये आपके vagina में रक्त स्राव के विरूद्ध इस तरह से फिट हो जाता है कि आपके बाहरी कपड़ों या अन्तः वस्त्र पर दाग की कोई सम्भावना नहीं होती.

Sanitary Pads की तरह इसमें किसी तरह का केमिकल भी इस्तेमाल नहीं होता और ना ही किसी तरह से कॉटन का इस्तेमाल. इस कारण इस ईको-फ्रेंडली Menstrual Cup को dispose off करना भी आसान है. इसकी वजह से किसी भी तरह के संक्रमण का कोई खतरा नहीं होता. एक reusable Menstrual Cup कम से कम 1 साल तक इस्तेमाल किया जा सकता है.

कैसे काम करता है ?

असल में यह छोटा सा Menstrual Cup जो कि देखने में घंटी की तरह लगता है silicone या latex rubber का बना होता है. यह vagina से निकलने वाले रक्त स्राव या अन्य तरह के द्रव को tampon या pad की तरह सोखता नहीं है बल्कि उसे जमा करता है और जब आपको फुर्सत हो आप उसे वाश बेसिन में बहा सकती हैं. क्योंकि सामान्यतया यह बड़ी आसानी से 12-15 घंटे तक के period's blood flow को अपने में स्टोर कर सकता है.

जैसे ही आपको अपने periods की हलचल का पता चले या आपके periods शुरू हो तो आप चित्र में दिखाये गए तरीके से इस Menstrual Cup को फ़ोल्ड कर अपने vagina में insert कर लें और वो भी बिना किसी अन्य वस्तु की सहायता के. शादीशुदा महिलाओं के नजरिये से कहा जाये तो इसे insert करना बिल्कुल ऐसे है जैसे कि वें Birth Control Ring को सेट करना.

जैसे ही आप इसे insert करेंगी यह तुरन्त (स्प्रिंग की तरह) पूरी तरह खुलकर अपनी जगह ले लेगा और viginal walls से सटकर फिट हो जाएगा. इस तरह से फिट होकर leakage के खिलाफ पुख्ता इन्तजाम कर देगा और ब्लड बड़ी आसानी के साथ टपक कर इसमें जमा होता जाएगा. इस प्रकार फिर जब भी आपको समय मिले या सुविधा महसूस हो आप उसका नीचे वाला हिस्सा पकड़कर उसे खींच लें, wash basin में खाली कर साफ पानी में धो लें और फिर से पहले की तरह सैट कर लें. अंत में जब आपकी monthly cycle खत्म हो जाये तो इसे साफ पानी में 5 मिनट तक उबालकर sterlize कर लें और अगले महीने के इस्तेमाल के लिए सुरक्षित जगह रख दें.

बाजार में आजकल दोनों तरह के Menstrual Cup मिल रहे हैं. मतलब एक ही monthly cycle में इस्तेमाल होने वाले और बार-बार पूरे साल इस्तेमाल होने वाले.

First published: 29 November 2018, 19:10 IST
 
अगली कहानी